Thursday, December 12th, 2019

बिजली चोरी की रोकथाम पर प्रभावी अंकुश जरूरी : ऊर्जा मंत्री सिंह

 ग्वालियर

ऊर्जा मंत्री  प्रियव्रत सिंह ने कहा कि उपभोक्ताओं की व्यक्तिगत शिकायतों (एफओसी) की मॉनीटरिंग महाप्रबंधक स्तर से की जाए। उन्होंने कहा कि ग्वालियर-चंबल संभाग के कतिपय जिलों में फीडर सेपेरेशन, आरजीजीवाय, दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना और सौभाग्य योजना के गुणवत्ताहीन कार्यों की जांच उच्च स्तरीय कमेटी द्वारा की जायेगी। यह बात मंत्री  सिंह ने ग्वालियर में मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के मैदानी अधिकारियों की बैठक में कही। इस अवसर पर सहकारिता एवं सामान्य प्रशासन मंत्री डॉ. गोविंद सिंह, श्रम मंत्री  महेन्द्र सिंह सिसोदिया, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री  प्रद्युम्न सिंह तोमर तथा वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक  विशेष गढ़पाले उपस्थित थे।

विशेष अभियान चलेगा

ऊर्जा मंत्री ने कहा कि बिजली चोरी की रोकथाम, विद्युत सुरक्षा को लेकर पोस्टर, बैनर तथा अन्य जन माध्यमों के जरिए विशेष अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे जिला योजना समिति की बैठक में आवश्यक रूप से उपस्थित हों। वितरण केन्द्र एवं निम्न दाब लाईनों की मरम्मत पर विशेष ध्यान दिया जाए। ऊर्जा मंत्री ने कहा कि दो महीने में ऐसी कार्ययोजना पर काम किया जाए, जिससे बिजली चोरी पर प्रभावी अंकुश लगे।

Source : Agency

आपकी राय

7 + 10 =

पाठको की राय