NPS के दूसरे खाता में क्रेडिट कार्ड से निवेश बंद,पीएफआरडीए के फैसले से ग्राहकों को होगा फायदा

नई दिल्ली
पेंशन फंड नियामक पीएफआरडीए ने नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) के टियर-2 खाता यानी दूसरा खाता को लेकर नियम में बड़ा बदलाव किया है। इसके तहत नियामक ने टीयर-2 खाता में क्रेडिट कार्ड के जरिए अंशदान के भुगतान की सुविधा बंद करने का फैसला किया है। यह फैसला तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है। हालांकि, नियामक ने यह भी कहा है कि इस फैसले के बाद भी एनपीएस के टियर-1 खाता के लिए क्रेडिट कार्ड से भुगतान की सुविधा जारी रहेगी।

टियर-2 एनपीएस खाते में क्रेडिट कार्ड से भुगतान बंद करने की जानकारी देते हुए पीएफआरडीए के सर्कुलर में कहा गया है कि उसने पेंशन फंड नियामक और विकास प्राधिकरण अधिनियम, 2013 की धारा 14 के तहत मिली शक्तियों का प्रयोग करते हुए ग्राहकों के हितों की रक्षा करने के लिए यह कदम उठाया है। उल्लेखनीय है कि पीएफआरडीए ने हाल के दिनों में एनपीएस को आकर्षक बनाने के लिए कई तरह के सुधार किए हैं।

इसके तहत एनपीएस के खाताधारक अब कभी भी उसमें निवेश कर सकते हैं और राशि की भी सीमा हटा दी गई है। जबकि पहले हर माह, तिमाही, छमाही या सालाना निवेश करना पड़ता था। साथ ही न्यूनतम एक हजार रुपये निवेश भी जरूरी था। नियामक ने अंशाधारकों की सुविधा के लिए यह कदम उठाया है जिससे उन्हें निवेश बनाए रखने में कोई परेशानी न हो।
 
क्या होता है टियर-2 एनपीएस खाता
एनपीएस टियर-2 एक गैर-सेवानिवृत्ति खाता है। इसमें सुविधा बचत खाते की तरह है और ब्याज एनपीएस वाला मिलता है। इसमें बिना किसी जुर्माना या लॉक-इन के कभी भी पैसे निकाल सकते हैं। इसके अलावा एनपीएस टियर 2 खाते के लिए कोई न्यूनतम जमा राशि या न्यूनतम वार्षिक योगदान नहीं है। हालांकि, खाताधारक टियर-2 खाते में किए गए निवेश पर आयकर छूट का दावा नहीं कर सकते हैं। साथ ही केवल वही एनपीएस खाताधारक टियर-2 एनपीएस खाता खोल सकते हैं, जिनका टियर-1 खाता है। कोई भी व्यक्ति न्यूनतम एक हजार रुपये के साथ टियर-2 एनपीएस खाता खोल सकता है।

महंगे शुल्क से बचाने के लिए फैसला
वित्तीय सलाहकारों का कहना है कि म्यूचुअल फंड या शेयर बाजार में निवेश के लिए क्रेडिट कार्ड भुगतान को प्रोत्साहित नहीं किया जाता है, क्योंकि इस तरह के भुगतान में अधिक ब्याज देना होता है। उनका कहना है कि क्रेडिट कार्ड से भुगतान करने वाले एनपीएस खाताधारकों को 0.60 प्रतिशत का शुल्क देना होता है। इसके अलावा उन्हें जीएसटी भी देनी पड़ती है। इसी को देखते हुए पीएफआरडीए ने टीयर-2 खाता में क्रेडिट कार्ड से भुगतान बंद कर दिया है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button