चार सत्रों 11 लाख करोड़ रुपये का घाटा, मार्च में 3400 अंक से ज्यादा टूट चुका है सेंसेक्स

नई दिल्ली।  
रूस और यूक्रेन के बीच सैन्य संघर्ष के कारण बीएसई के मानक सूचकांक सेंसेक्स में गिरावट जारी है। मार्च के शुरुआती चार सत्रों में ही सेंसेक्स के निवेशकों को 11 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का नुकसान हो चुका है। बीएसई पर मौजूद डाटा के अनुसार, 28 फरवरी को सेंसेक्स का बाजार पूंजीकरण 252.39 लाख करोड़ रुपये था, जो सात मार्च को घटकर 241.10 लाख करोड़ रुपये रह गया है। इस प्रकार मार्च के चार कारोबारी सत्रों में सेंसेक्स के बाजार पूंजीकरण में 11.28 लाख करोड़ रुपये की कमी आई है। मार्च में अभी तक दो, तीन, चार और सात तारीख को ही सेंसेक्स में कारोबार हुआ है।

3404 अंक गिरा सेंसेक्स: मार्च के पहले चार कारोबारी सत्रों में सेंसेक्स में 3404.53 अंकों की गिरावट आई है। डाटा के अनुसार 28 फरवरी को सेंसेक्स 56,247.75 अंकों पर बंद हुआ था। सोमवार को यह 1491.06 अंकों की गिरावट के साथ 52,842.75 अंकों पर बंद हुआ। हालांकि, दिनभर के कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने 52,367.10 अंक के निचले स्तर तक भी गोता लगाया था। 2022 में पहली बार सेंसेक्स 53 हजार अंकों के स्तर से नीचे बंद हुआ है।

Related Articles

Back to top button