सस्ते में सोना खरीदने का मौका, इस तारीख से खरीदें Sovereign Gold Bond

Sovereign Gold Bond: सरकार सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की दो नई किश्त जारी करने की तैयारी में है। पहली किश्त दिसंबर और दूसरी किश्त फरवरी में जारी की जाएगी। पहली किश्त 18 से 22 दिसंबर को खुलेगी। जबकि दूसरी किश्त 12 से 16 फरवरी की तारीख को ओपन होगी। वहीं सीरीज-1 इस साल 19-23 जून के बीच और सीरीज-2 11-15 सितंबर के बीच खुली थी।

Sovereign Gold Bond: अगर आप अपनी मेहनत की कमाई कहीं निवेश करने की तैयारी में हैं तो आपके सामने एक बेहतर मौका सामने आया है। सरकार इस महीने सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (sovereign gold bonds-SGBs) की एक किश्त जारी करने की तैयारी में है। इसके बाद फरवरी में एक और किश्त जारी करेगी। इस मामले पर वित्त मंत्रालय ने एक नोटिफिकेशन जारी किया है। इसके मुताबिक, सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम 2023-24 की तीसरी किश्त 18 से 22 दिसंबर तक खुलेगी। वही चौथी किश्त 12 फरवरी से 16 फरवरी, 2024 के बीच खुलेगी। इस दौरान आप निवेश कर फायदा उठा सकते हैं।

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड एक सरकारी बॉन्ड होता है। ये बॉन्ड 1 ग्राम सोने का होता है। यानी 1 ग्राम सोने की जितनी कीमत होगी। उतनी ही बॉन्ड की कीमत होगी। इसे भारत सरकार के रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की ओर से जारी किया जाता है। ऑनलाइन अप्लाई करने और डिजिटल पेमेंट करने पर प्रति ग्राम 50 रुपये का डिस्काउंट मिलता है।

Sovereign Gold Bond में कितने रुपये कर सकेंगे निवेश?

सीरीज-1 इस साल 19-23 जून के बीच और सीरीज-2 11-15 सितंबर के बीच खुली थी। सब्सक्रिप्शन की मैक्सिमम लिमिट इंडिविजुअल के लिए 4 किलोग्राम, HUF के लिए 4 किलोग्राम और ट्रस्टों और समान संस्थाओं के लिए 20 किलोग्राम प्रति वित्ती वर्ष है। ऑनलाइन सब्सक्रिप्शन लेने वाले और डिजिटल मोड के जरिए पेमेंट करने वाले निवेशकों के लिए SGB के तय मूल्य से 50 रुपये प्रति ग्राम की छूट मिलती है। परंपरागत सोने की मांग कम करने और घरेलू बचत के एक हिस्से के तौर पर गोल्ड बॉन्ड (Gold Bonds) की बिक्री सबसे पहले नवंबर, 2015 में शुरू की गई थी। सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (Sovereign Gold Bonds) की मैच्योरिटी पीरियड 8 साल की होगी। लेकिन 5 साल पूरा होने पर इससे निकलने का विकल्प मुहैया कराया गया है।

Also Read – Sovereign Gold Bond

कहां होगी सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की बिक्री?

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड (Sovereign Gold Bonds) शेड्यूल्ड कमर्शियल बैंकों (स्मॉल फाइनेंस बैंकों, पेमेंट बैंक और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों को छोड़कर), स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (SHCIL), क्लियरिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (CCIL), नामित डाकघरों (designated post offices) और मान्यता प्राप्त स्टॉक एक्सचेंज जैसे, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड (NSE) और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज लिमिटेड (BSE) के जरिए बेचे जाएंगे। SGB के तहत सोना खरीदने के लिए केवाईसी जरूरी है. इसके साथ ही पैन कार्ड होना भी आवश्यक है।

क्या होगी कीमत?

गोल्ड बॉन्ड की कीमतें (Sovereign Gold Bond Price) इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन लिमिटेड के आखिरी तीन दिन के सोने के औसत दाम के हिसाब से तय किया जाता है।

Show More

Related Articles

Back to top button
Join Our Whatsapp Group