बारिश से लगी सब्जियों की कीमतों में आग, टमाटर ने लगाया शतक, फिर निचोड़ने लगा नींबू

नई दिल्ली

दो दिन की बारिश के बाद सब्जियों की कीमतों में तेजी देखी जा रही है। टमाटर की कीमतें फुटकर में 100 रुपये प्रति किलो के पार पहुंच गई है। साथ ही फूल गोभी भी 100 रुपये प्रति किलो बिक रही है। लौकी, तोरई से लेकर खीरे तक की कीमतों में भी तेजी देखी जा रही है।

मंडी और बाजार में कीमतें
फूलगोभी थोक में 45 रुपये तो फुटकर में 90 से 110 रुपये किलो बिक रही है। वहीं, टमाटर थोक में 50 रुपये तो फुटकर में 110 रुपये तक पहुंच गया है। यही हाल नींबू का है। थोक में नींबू 35 रुपये किलो है तो फ्टकर में 125 से 150 रुपये किलो। धनिया थोक में 50 रुपये तेा फ्टकर में 120 से 140 जबकि थोक में भिंडी 25 रुपये और फुटकर 60 से 70 रुपये किलो। करेला थोक में 30 रुपये है तो फुटकर में  60 से 80 रुपये किलो।

थोक में सब्जी के दामों में बहुत तेजी नहीं आई
व्यापारियों का कहना है कि थोक में सब्जी के दामों में उतनी तेजी नहीं आई है, जितनी फुटकर बाजार में हो गई है। नींबू की कीमत गिरकर 35 रुपये प्रति किलो तक आ गई है, लेकिन आम लोगों को अब भी फुटकर में 125 से 150 रुपये प्रति किलो खरीदना पड़ रहा है। आजादपुर मंडी के आढ़ती जय किशन का कहना है कि बारिश के कारण मंडी में कुछ सब्जियों की आवक कम हुई है। टमाटर की आवक भी घटी है, जिससे कीमत में थोड़ा इजाफा हुआ है।
 
करेला, लौकी 5 रुपये किलो
दो दिन पहले टमाटर का थोक मूल्य 40 रुपये प्रति किलो के आसपास था, जो बढ़कर 45 से 50 रुपये हो गई है। बारिश के बाद लौकी, तोरई, भिंडी, करेला और खीरे की कीमतों में भी तेजी आई है। दो दिन पहले तक मंडी में खीरा सात से आठ रुपये किलो था जो गुरुवार को 10 रुपये प्रति किलो हो गया। जबकि देसी खीरे की कीमत 15 से 20 रुपये प्रति किलो थी।

इलाके के हिसाब से कीमतें अलग-अलग
सब्जी की कीमतों में भी इलाके और बाजार के हिसाब से अंतर देखा जा सकता है। दिल्ली में गुरुवार को जहां सदर, सरोजिनी नगर, करोलबाग, रोहणी और कुछ इलाकों में अच्छी क्वालिटी का टमाटर 90 से 110 रुपये प्रति किलो बिका, वहीं साप्ताहिक बाजार में टमाटर की कीमतें 80 से 90 रुपये प्रति किलो के बीच रहीं। इस तरह से इलाके के हिसाब से सब्जी की कीमतों में अंतर देखा जा सकता है।

गुरुग्राम : 80 रुपये किलो पहुंचा टमाटर
मिलेनियम सिटी में एक महीने पहले तक नींबू की बढ़ी कीमतों की वजह से लोग परेशान थे। अब टमाटर ने लोगों के बजट को बिगाड़ दिया है। फुटकर में 60 से 80 रुपये प्रति किलो टमाटर मिल रहा है। बढ़ी कीमतों की वजह से टमाटर आम आदमी की पहुंच से दूर हो रहा है। 15 दिन पहले टमाटर 25 से 30 रुपये किलो मिल रहा था। गुरुग्राम की खांडसा मंडी में थोक में 35-40 रुपये प्रति किलो टमाटर बिक रहा है। मंडी के टमाटर व्यापारी इंद्र सिंह ठाकरान ने बताया कि विभिन्न कारणों से फुटकर विक्रेता थोक से दोगुना में टमाटर बेच रहे हैं। व्यापारी कृष्ण कुमार ने कहा कि टमाटर की आवक कम हो गई है।

फरीदाबाद : तीन गुना बढ़े घीया के भाव
पिछले दिनों हुई ओलावृष्टि के साथ हुई बारिश से सब्जियों के दाम में एक सप्ताह के भीतर तीन गुना तक बढ़ गए हैं। घीया गोभी टिंडा खीरा तुरई भिंडी सहित अन्य सब्जियां महंगी हो गई। जो घीया 10 रुपये किलो बिक रहा था वह 30 रुपये किलो बिक रहा है। टमाटर जो एक सप्ताह पहले तक 30 रुपये किलो बिक रहा था आज वही टमाटर 60 रुपए किलो बिक रहा है। सब्जी विक्रेता देवेंद्र गोयल का कहना है कि पिछले दिनों हुई बारिश और ओलावृष्टि से सब्जियां काफी खराब हो गई इस कारण सब्जियों की रेट में काफी बढ़ोतरी हुई है। सब्जी के छोटे विक्रेता शिव कुमार का कहना है कि टमाटर इस वक्त काफी महंगा है।

Related Articles

Back to top button