हॉलीवुड की सबसे डरवनी हॉरर फिल्‍में, जिन्‍हें देखने के बाद चीख भी नहीं पाएंगे आप!

सिनेमा की दुनिया भी दिलचस्‍प है। यह हमें हंसाती है, रूलाती है, रोमांस के गुर सिखाती है। जब बात साइंटिफिक फिक्‍शन की आती है तो ऐसी दुनिया में ले जाती है, जो हमारी सोच और कल्‍पनाओं से परे है। लेकिन इन सब के बीच सिनेमा का हॉरर जोनर ऐसा है, जो हमें डराती है। वो कहते हैं कि ना कि डर सबको लगता है, गला सबका सूखता है… पर सिनेमा ने हमें यह भी बताया कि डर का अपना मजा है। साउथ से लेकर बॉलीवुड तक की फिल्‍मों ने करीब-करीब हर जोनर में हॉलीवुड वालों को कड़ी टक्‍कर दी है। लेकिन हॉरर यानी डराने वाली फिल्‍मों के मामले अभी भी हॉलीवुड का कोई तोड़ नहीं है। भुतहा फिल्‍मों से लेकर रहस्‍यमयी फिल्‍मों के मामले में हॉलीवुड वालों ने ऐसी फिल्‍में बनाई हैं, जिसे देखकर हलक सूख जाए। आज बात ऐसी ही 5हॉलीवुड हॉरर फिल्‍मों की जिसे देखने के बाद दिमाग सुन्‍न पड़ जाता है, जुबान अटक जाती है।

'द शाइनिंग' (1980)
Imdb की रेटिंग के हिसाब से 'द शाइनिंग' हॉलीवुड की सबसे खतरनाक Horror Film है। दिलचस्‍प बात यह भी है कि यह फिल्‍म 1980 में रिलीज हुई थी। तब से अब तक 42 साल बीत गए, लेकिन अभी भी इस फिल्‍म को लेकर डर के दीवानों की दीवानगी कम नहीं हुई है। Imdb पर इस फिल्‍म को 8.4 रेटिंग मिली है। कहानी एक परिवार की है, जो एक सुनसान होटल में ठहरता है। सर्दियों की रात में एक तरफ चुभने वाली ठंड है और दूसरी तरफ यह सुनसान और मनहूस होटल, जहां एक के बाद एक अजीब घटनाएं घटती हैं। इस परिवार का बेटा है, जो मानसिक रूप से बीमार है। उसे बीते हुए कल की और आने वाले कल की अजीब घटनाएं दिखने लगती हैं। स्‍टेनली कुब्रिक के डायरेक्‍शन में बनी इस फिल्‍म में जैक निकोलसन, शेली डुवैल, डैनी लॉयड, और स्कैटमैन क्रॉथर प्रमुख भूमिकाओं में हैं।

फिल्‍म 'द एक्‍सोसिस्‍ट'  (1973)
जिन लोगों ने भी 'द एक्‍सोसिट' देखी है, वह मानेंगे कि यह एक अलग ही लेवल की डरावनी फिल्‍म है। साल 1973 में रिलीज यह इस फिल्‍म के डायरेक्‍टर विलियम फ्रेडकिन हैं। कहानी के केंद्र में एक जवान लड़की है, जिस पर भूत का साया है। इ‍स फिल्‍म को ऑस्कर में बेस्‍ट फिल्‍म का नॉमिनेशन भी मिला था। लड़की की मां अपनी बेटी को काले साये से दूर ले जाने के लिए दो पादरी का सहारा लेती है। लेकिन हालात समय के साथ बद से बदतर हो जाते हैं। इस‍ फिल्‍म को लेकर उस दौर में खूब व‍िवाद भी हुआ था। 'द एक्‍सोसिस्‍ट' में एलेन बर्स्टिन, मैक्स वॉन सिडो, लिंडा ब्लेयर और लीजे कोब्बो लीड रोल्‍स में हैं। IMDb पर इस फिल्‍म को हॉरर जोनर में 8.1 रेटिंग मिले हैं।

द अदर्स मूवी (2001)
लिस्‍ट में तीसरी सबसे डरावनी फिल्‍म के तौर पर 2001 में रिलीज फिल्‍म 'द अदर्स' का नाम है। इस फिल्‍म के डायरेक्‍टर एलेजांद्रो अमेनाबार हैं। फिल्‍म की स्‍टारकास्‍ट भी तगड़ी है। इसमें निकोल किडमैन, क्रिस्टोफर एकलेस्टन, फियोनुला फ्लैनगन और अलकिना मन्नू लीड रोल में हैं। 'द अदर्स' की कहानी एक मां और उसके दो बच्‍चों की है। ये दोनों ही बच्‍चे फोटोसेंसिटिव हैं। यानी इन्‍हें रोशनी से दिक्‍कत है। यह मां अपने बच्‍चों को लेकर एक बेहद पुराने और गुप अंधेरे घर में रहती है। अचानक कुछ ऐसी घटनाएं घटती हैं कि इन तीनों को यह भरोसा हो जाता है कि यह घर भुतहा है।

द कॉन्ज्यूरिंग  (2013)
जेम्‍स वान के डायरेक्‍शन में बनी 'द कॉन्ज्यूरिंग' फ्रेंचाइजी की यह पहली फिल्‍म है। फिल्म की कहानी कैरोलिन (लिली टेलर) और रोजर पेरोन (रॉन लिविंगस्टन) के इर्द-गिर्द घूमती है, जो अपने परिवार के साथ फार्महाउस में हैं। जल्द ही उनके साथ अजीब घटनाएं होती हैं। बुरे सपने आते हैं। कैरोलिन इन घटनाओं की जांच के लिए पारानॉर्मल घटनाओं के इन्‍वेस्‍ट‍िगेटर एड (पैट्रिक विल्सन) और लोरेन वारेन (वेरा फार्मिगा) को बुलाती है। वारेन को पता चलता है कि पेरोन का परिवार जहां कहीं भी जाता है, एक बुरी ताकत उसे निशाना बनाती है। इस हॉरर फिल्‍म को IMDb पर 7.5 रेटिंग मिली है। जबकि इसके लिए 5 लाख से अध‍िक यूजर्स ने वोट किया है। ऐ से में आप इस फिल्‍म की पॉपुलैरिटी का अंदाजा लगा सकते हैं।

द रिंग मूवी (2002)
साल 2002 में रिलीज हुई 'द रिंग' में नाओमी वाट्स, मार्टिन हेंडरसन, डेविड डॉर्फमैन और ब्रायन कॉक्स लीड रोल में हैं। गोर वर्बिंस्की के डायरेक्‍शन में बनी इस फिल्‍म में एक अखबार का रिपोर्टर है राहेल केलर (नाओमी वाट्स), जो एक ऐसी स्‍टोरी की परतें तलाश रही है, जिसमें एक वीडियो टेप है। खास बात यह है कि इस वीडियो टेप को जो भी देखता है, ठीक सात दिन बाद उसकी मौत हो जाती है। जिज्ञासा में राहेल भी उस वीडियो टेप को देखती है। अब वह यह पता लगा रही है कि इस शापित टेप के पीछे का रहस्य क्या है। अगर आप डरना चाहते हैं तो 'द रिंग' आपके लिए एक परफेक्‍ट वॉच है। इस फिल्‍म को IMDb पर 7.1 रेटिंग मिली है।

Related Articles

Back to top button