मैं कबड्डी खेलने का आदी, छाती पर पैर रखकर नाचता हूं…सांसद लक्ष्मीकांत वाजपेयी पुलिसवालों पर भड़के

मेरठ
झारखंड के नए प्रभारी और भाजपा से राज्यसभा सांसद लक्ष्मीकांत वाजपेयी यूपी पुलिस से इस कदर नाराज हो गए कि बीच सड़क पर उन्होंने भड़ास निकाल दी। लक्ष्मीकांत वाजपेयी रविवार को जम्मू कश्मीर के लेफ्टीनेंट गवर्नर मनोज सिन्हा से मिलने पहुंचे थे, लेकिन सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी उन्हें पहचान नहीं पाए और अंदर जाने से रोक दिया। इतनी बात पर राज्यसभा सांसद पुलिसकर्मियों पर भड़क उठे और उनकी लताड़ लगा दी। पुलिस कर्मियों पर सांसद को भड़कता देख तमाम भाजपा नेता और कार्यकर्ता मौके पर पहुंच गए। इस दौरान किसी ने उनका वीडियो बनाया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

स्कूटी चलाकर उपराज्यपाल से मिलने पहुंचे थे सांसद लक्ष्मीकांत
सर्किट हाउस में ठहरे जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से मिलने के लिए सांसद लक्ष्मीनारायण स्कूटी से पहुंचे थे। स्कूटी पर आम आदमी समझ कर पुलिस वालों ने उन्हें रोक लिया था। इस पर भड़कते हुए राज्यसभा सांसद लक्ष्मीकांत ने कहा, इन्हें गाड़ी वाले सांसद पसंद आते हैं, जो नेता इनसे पैसा लेता है और इनको माल कमाने देता है, वो इन्हें पसंद आता है। हम न लेते न देते…इसलिए फकीर हैं। इन्हें ये नहीं पता कि जिस दिन फकीर ने उलट दिया तो जान बचानी भारी पड़ जाएगी। सांसद यहीं नहीं रुके, पुलिस वालों पर उन्होंने जमकर भड़ास निकाली। उन्होंने कहा, बड़े-बड़े तीस मारखा देखे हैं, ये मेरा घर है रावण का ससुराल अच्छे-अच्छे उलटकर चले गए हैं यहां से।

अफसरों पर भी सांसद ने जाहिर की नाराजगी
मनोज सिन्हा से मिलने जाते वक्त सांसद लक्ष्मीकांत वाजपेयी ने अफसरों पर भी नाराजगी जाहिर की। चलते-चलते सांसद ने कहा, ये खाकी वर्दी वाले लोग सिस्टम नहीं जानते हैं, ये अपने अफसरों को लेकर उछल रहे हैं। मैं कबड्डी खेलने का आदती हूं और छाती पर पैर रखकर नाचता हूं। मैं ट्रांसफर नहीं कराता किसी का, ट्रांसफर कराने वाले नेता और हैं।

 

Related Articles

Back to top button