Drone Taxi : इस देश में फ्लाइंग टैक्सी से 2 लोगों ने 30KM तक भरी उड़ान, देखें VIDEO

Drone Taxi : मंगलवार को इजराइल के एक ड्रोन ने दो लोगों को लेकर करीब 30 किलोमीटर तक की उड़ान भरी। इसके साथ ही फ्लाइंग टैक्सी पर 220 किलो का अतिरिक्त वजन भी था। इस टैक्सी में विंग्स और रोटर नहीं लगे थे।

Drone Taxi First Test: उज्जवल प्रदेश, इजरायल. ड्रोन से उड़ान भरने की कल्पना सच साबित हो गई है। इजरायल में ड्रोन की फ्लाइंग टैक्सी का परीक्षण सफल रहा है। मंगलवार को एक ड्रोन ने दो लोगों को लेकर करीब 30 किलोमीटर तक की उड़ान भरी। इसके साथ ही फ्लाइंग टैक्सी पर 220 किलो का अतिरिक्त वजन भी था। इस टैक्सी में विंग्स और रोटर नहीं लगे थे। अब इसका कॉमर्शियल प्रोडक्शन जल्द शुरू किया जाएगा।

‘टाइम्स ऑफ इज़राइल’ के मुताबिक, यातायात की भीड़ को कम करने के उद्देश्य से एक महत्वपूर्ण कदम में इज़राइल ने इंसानों और सामानों को ले जाने के लिए डिज़ाइन किए गए स्वायत्त ड्रोन का सफल परीक्षण किया है। यह इस तरह की ड्रोन की श्रृंखला की पहली उड़ान है।

अखबार ने कहा है कि इज़राइली सरकार ने एक व्यापक राष्ट्रीय ड्रोन नेटवर्क स्थापित करने और देश की वितरण प्रणाली में क्रांति लाने के उद्देश्य से एक महत्वाकांक्षी पायलट प्रोजेक्ट इज़राइल नेशनल ड्रोन इनिशिएटिव (INDI) लॉन्च किया है। यह पायलट प्रोजेक्ट परिवहन मंत्रालय, इज़राइल इनोवेशन अथॉरिटी, आयलॉन हाईवे लिमिटेड,और इज़राइल के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण (सीएएआई) का सामूहिक प्रयास है। यह न सिर्फ ऐतिहासिक है बल्कि यहूदी राज्य में एक मील का पत्थर है, जो यह पहली बार अत्याधुनिक तकनीक पेश करता है।

Also Read: Odisha Train Crash : बालासोर ट्रेन हादसे में मारे गए अब तक 81 मृतकों की नहीं हुई पहचान, रेलवे ने आमजन से मांगी मदद

द टाइम्स ऑफ इज़राइल ने परिवहन मंत्री मिरी रेगेव के हवाले से कहा, “तकनीकी विशेषज्ञता और मल्टीडिस्प्लिनरी एग्जामिनेशन की यह दुनियाभर में अपनी तरह की पहली पहल है। इसके तहत इंसानों के साथ-साथ सामानों को भी लाने-ले जाने की व्यवस्था की गई है। यातायात भीड़ से निपटने के लिए ड्रोन को एक अतिरिक्त परिवहन उपकरण के रूप में स्थापित करने की यह पहल है। इसमें सभी तरह के विधायी और विनियमन (Legislative and Regulation) प्रावधानों का भी ख्याल रखा गया है।”

इस प्रोजेक्ट के तहत पिछले दिनों 11 फ्लाइंग टैक्सी (ड्रोन) को रेगिस्तान और घाटी से लेकर सघन आबादी वाले इलाकों के ऊपर उड़ाया गया। ये INDI परियोजना के दूसरे चरण का हिस्सा थीं। इसमें 11 प्रमुख ड्रोन संचालन और वितरण कंपनियों की भागीदारी देखी गई। परीक्षण किए गए ड्रोनों में इज़राइल में निर्मित AIR ZERO ने दो यात्रियों को लेकर 30 किलोमीटर की सफल उड़ान भरी। यह दो यात्रियों को लेकर 160 किलोमीटर तक की दूरी तय कर सकती है। इसके अलावा 220 किलोग्राम तक का कुल भार भी ढो सकता सकता है। इस फ्लाइंग कार के साथ-साथ ड्रोनरी, कैंडो ड्रोन और डाउन विंड ने भी परीक्षण उड़ानें संचालित कीं।

अगले दो वर्षों में, ये कंपनियां हरेक महीने के एक सप्ताह देश भर में परीक्षण उड़ानें संचालित करेंगी। ये उड़ानें नियंत्रित हवाई क्षेत्र में होंगी और 150 किलोमीटर (93 मील) तक की दूरी तय करेंगी। इसमें भारी पेलोड भी शामिल होंगे। इजराइल की राष्ट्रीय ड्रोन परियोजना के अनुसार, पिछले तीन वर्षों में 19,000 से अधिक उड़ानें भरी गई हैं।

Also Read: Suzuki Jimny : अब खत्म हुआ इंतज़ार ! मारुति सस्ते में लॉन्च कर दी 5-डोर जिम्नी

आईएए के महानिदेशक ड्रोर बिन ने कहा, “इजरायल इस क्षेत्र में दुनियाभर में सबसे आगे है, और हालिया सफल परीक्षण राष्ट्रीय ड्रोन कार्यक्रम में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है, जिसने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रशंसा प्राप्त की है।” बता दें कि इजराइल ने तीन साल पहले नेशनल इनिशिएटिव प्रोग्राम के तहत देश की 11 कंपनियं को एक प्लेटफॉर्म पर लाकर ड्रोन टैक्सी की लॉन्चिंग का कदम उठाया था। इजराइल का फोकस कॉमर्शियल ड्रोन और फ्लाइंग टैक्सी पर है, ताकि लोगों को यातायात की समस्या से निजात दिलाया जा सके।

Back to top button