ड्रैगन निकाल रहा ताइवान मुद्दे पर भड़ास, अब नैन्सी पेलोसी पर प्रतिबंधों की घोषणा

नई दिल्ली
अमेरिकी सीनेटर नैन्सी पेलोसी की ताइवान यात्रा को लेकर बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। अमेरिका के इस कदम पर चीन उसे चेता चुका है। साथ ही बीते दिनों से ताइवान सीमा के पास मिसाइल परीक्षण कर रहा है। अब चीन ने नैन्सी पेलोसी के खिलाफ प्रतिबंधों की घोषणा की है। उधर, नैन्सी पेलोसी ने भड़के चीन पर जुबानी हमला बोला। कहा कि वो अमेरिका के नेताओं को ताइवान जाने से नहीं रोक सकता।

ताइवान को अपना हिस्सा बताने वाले चीन को किसी बाहरी देश की ताइवान मुद्दे पर दखलअंदाजी गले नहीं उतर रही है। जब से अमेरिकी सीनेटर नैन्सी पेलोसी ने ताइवान की यात्रा की है और अमेरिका की ओर से देश को अपना समर्थन देने की बात कही। तब से चीन को मिर्ची लग गई है। पेलोसी के ताइवान दौरे से भड़का चीन पिछले दिनों से ताइवान सीमा के पास मिसाइल परीक्षण कर रहा है। अपने फाइटर जेट ताइवान सीमा के अंदर उड़ाकर युद्ध की चेतावनी दे रहा है।

पेलोसी पर प्रतिबंधों की घोषणा
चीन के विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार को अमेरिकी हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी के खिलाफ प्रतिबंधों की घोषणा की। मंत्रालय ने कहा कि पेलोसी ने अपनी यात्रा के साथ चीन के आंतरिक मामलों में गंभीर रूप से हस्तक्षेप किया और चीन की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता को गंभीरता से कम करने का प्रयास किया और यह कि चीन "पेलोसी और उसके तत्काल परिवार पर प्रतिबंध लगाएगा"। हालांकि चीन ने प्रतिबंधों पर ज्यादा जानकारी साझा नहीं की।

चीनी विदेश मंत्रालय के एक बयान में कहा गया है कि पेलोसी ने चीन की गंभीर चिंताओं की अवहेलना की और वह इस यात्रा का कड़ा विरोध करता है। चीन ने पेलोसी की यात्रा को उत्तेजक बताया और कहा कि यह चीन की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता को कमजोर करता है। चीन ताइवान के विदेशी सरकारों के साथ अपने जुड़ाव का विरोध करता है। चीन का कहना है कि ताइवान उसका क्षेत्र है और उसे अपने नियंत्रण में लाने के लिए वह किसी भी कीमत पर जाने को तैयार है।  उधर, ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि शुक्रवार की सुबह, चीन ने ताइवान जलडमरूमध्य की मध्य रेखा के पार सैन्य जहाज और युद्धक विमान भेजे, जो दशकों से चीन और ताइवान के बीच एक अनौपचारिक बफर जोन था।

मिसाइल गिराना बंद करे चीनः जापान
जापानी रक्षा मंत्री नोबुओ किशी ने कहा कि गुरुवार को सैन्य अभ्यास शुरू होने के बाद से चीन द्वारा दागी गई मिसाइलों में से पांच जापान के मुख्य द्वीपों के दक्षिण में एक द्वीप हेटेरुमा से जापान के विशेष आर्थिक क्षेत्र में घुसीं। उन्होंने कहा कि जापान ने "जापान की राष्ट्रीय सुरक्षा और जापानी लोगों की सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा" के रूप में चीन के लिए मिसाइल लैंडिंग का विरोध किया है। जापान के रक्षा मंत्रालय ने बाद में कहा कि उनका मानना ​​है कि चीन के दक्षिण-पूर्वी तट फ़ुजियान से दागी गई अन्य चार मिसाइलों ने ताइवान के ऊपर से उड़ान भरी। किशिदा ने कहा कि मिसाइल प्रक्षेपणों को "तुरंत रोक दिया जाना चाहिए"।

चीन ने शुक्रवार को कहा कि पिछले दो दिनों में ताइवान के आसपास 100 से अधिक युद्धक विमानों और 10 युद्धपोतों ने लाइव-फायर सैन्य अभ्यास में हिस्सा लिया है, जबकि अमेरिकी हाउस स्पीकर नैन्सी पेलोसी पर इस सप्ताह के शुरू में स्वशासी द्वीप की यात्रा पर प्रतिबंधों की घोषणा की। आधिकारिक शिन्हुआ समाचार एजेंसी ने शुक्रवार को कहा कि ताइवान के तट से छह क्षेत्रों में होने वाले "संयुक्त रुकावट अभियान" में लड़ाकू, बमवर्षक, विध्वंसक और युद्धपोत सभी का इस्तेमाल किया गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button