अमेरिका में फेडरल रिजर्व ने भी नीतिगत ब्याज दर में 0.5 फीसद की बढ़ोतरी की

वाशिंगटन
महंगाई से जूझ रहे अमेरिका में फेडरल रिजर्व ने भी बुधवार को अपनी नीतिगत ब्याज दर में 0.5 फीसद की बढ़ोतरी कर दी। बता दें मार्च में यहां खुदरा मुद्रास्फीति 5.2 फीसद पहुंच गई थी, जबकि फेडरल रिजर्व को इसे दो फीसद तक सीमित रखने की जिम्मेदारी दी गई है। इससे पहले मार्च महीने में फेडरल रिजर्व की खुली बाजार संबंधि समिति ने नीतिगत ब्याज दर में चौथाई फीसद की वृद्धि की थी।

फेडरल रिजर्व की इस समिति की दो दिन की बैठक के बाद बुधवार को जारी बयान में नीतिगत दर को 0.75 फीसद से एक फीसद रखने का लक्ष्य रखा गया है। फेडरल रिजर्व ने 2006 से बाद पहली बार लगातार दूसरे महीने नीतिगत ब्याज दर बढ़ाई है और वर्ष 2000 के बाद पहली बार इसने एक बार में इतनी बड़ी वृद्धि करते हुए नीतिगत ब्याज दर में आधा फीसद की बढ़ोतरी की है।

बढ़ सकते हैं दूध-तेल के दाम, महंगाई अभी और सताएगी
फेडरल रिजर्व के अध्यक्ष जेरोम पावेल ने आने वाले समय में नीतिगत में दर में और वृद्धि करने का संकेत दिया है और यह कयास लगाया जा रहा है कि नवंबर-दिसंबर तक नीतिगत ब्याज दर 2.5 से 2.75 फीसद तक जा सकती है। पॉवेल ने कहा कि फेडरल रिजर्व के पास मूल्य स्थिरता को बहाल करने के लिए आवश्यक औजार और संकल्प शक्ति दोनों ही हैं।

 

Related Articles

Back to top button