‘भारत और अमेरिका सबसे अच्छे दोस्त’, डोनाल्ड ट्रंप ने हिन्दी में बोलकर पीएम मोदी को क्यों किया याद?

वॉशिंगटन
अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, जो अकसर अपने बयानों की वजह से विवादित रहते हैं, उन्होंने भारत और अमेरिका के संबंधों को नये सिरे से परिभाषित करने की कोशिश की है और उन्होंने हिन्दी में बोलकर भारत को अमेरिका का सबसे अच्छा दोस्त बताया है। डोनाल्ड ट्रंप ने अपने ताजा इंटरव्यू में जब भारत को लेकर सवाल पूछा गया, तो उन्होंने हिन्दी भाषा में बोलते हुए कहा कि, 'भारत और अमेरिका सबसे अच्छे दोस्त हैं।' हालांकि, अभी तक इस इंटरव्यू का प्रसारण नहीं हुआ है, लेकिन इस इंटरव्यू का ये वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है।

ट्रंप के भारत प्रेम का मतलब
डोनाल्ड ट्रंप के हिन्दी में बोलकर भारत को सबसे अच्छा दोस्त बताया है, हालांकि उन्होंने आगे क्या कहा है, उसका पता अभी तक नहीं चल पाया है, लेकिन विदेश मामलों के जानकारों का कहना है कि, भारत को लेकर डोनाल्ड ट्रंप कता ये बयान उनकी अगले राष्ट्रपति चुनाव की योजनाओं से जुड़ा हुआ हो सकता है, जिसमें वो शामिल हो सकते हैं। डोनाल्ड ट्रंप और नरेंद्र मोदी के बीच बहुत अच्छा तालमेल है। साल 2019 में पीएम मोदी के फिर से चुने जाने के महीनों बाद, उन्होंने और राष्ट्रपति ट्रम्प ने संयुक्त रूप से ह्यूस्टन, टेक्सास में एक विशाल "हाउडी, मोदी" रैली को संबोधित किया था, जिसमें हजारों भारतीय अमेरिकियों ने भाग लिया। वहीं, माना जा रहा है, कि भारत की तारीफ कर वो अमेरिकी भारतीयों को अपने पाले में करना चाहते हैं, जो अब अमेरिकी चुनाव में काफी अहम भूमिका निभाते हैं। वहीं, अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से पहले जब डोनाल्ड ट्रंप ने भारत का दौरा किया था, उस वक्त गुजरात में पीएम मोदी ने 'अबकी बार ट्रंप सरकार' का नारा दिया था, जिसके लिए उनकी आलोचना भी की गई थी।

भारत को लेकर डोनाल्ड ट्रंप
डोनाल्ड ट्रंप जब तक अमेरिका के राष्ट्रपति रहे, भारत के साथ उन्होंने मिश्रित संबंध बनाकर रखे। हालांकि, व्यापार को लेकर उन्होंने भारत को काफी परेशान किया और भारत को दी जाने वाली कई सुविधाओं को उन्होंने हटा भी लिया था, लेकिन यूनाइटेड नेशंस की स्थाई सदस्यता के लिए उन्होंने खुलकर भारत का समर्थन किया था। साल 2020 में जब पूरी दुनिया में कोविड-19 फैल रही थी, उस वक्त डोनाल्ड ट्रंप ने भारत का दौरा किया था और अहमदाबाद के सरदार पटेल स्टेडियम में, जो दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम है, उसमें उनका मुख्य कार्यक्रम हुआ था। कार्यक्रम से पहले एक मेगा-रोड शो भी आयोजित किया गया था, जिसमें लाखों लोगों ने हिस्सा लिया था। इसी कार्यक्रम में पीएम मोदी ने 'अबकी बार ट्रंप सरकार' का भाषण दिया था, जिसको लेकर विदेश मामलों के जानकारों का कहना था, कि पीएम मोदी ने किसी और देश की अंदरूनी राजनीति को प्रभावित करने की कोशिश की है। हालांकि, चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप हार गये थे।
 
क्या डोनाल्ड ट्रंप लड़ेंगे चुनाव?
वहीं, एनडीटीवी को दिए गये एक इंटरव्यू में डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि, 'हर कोई चाहता है, कि मैं चुनाव लड़ूं, मै चुनावी ओपिनियन पोल में आगे आ रहा हूं… और मैं इस बारे में बहुत जल्द ही कोई फैसला करूंगा। लेकिन, मेरा मानना है, कि अगर मैं चुनाव में आता हूं, तो बहुत सारे लोग खुश होंगे।' उन्होंने आगे कहा था, कि 'मेरा पीएम मोदी के साथ काफी अच्छे संबंध रहे हैं, मेरे भारत के साथ काफी अच्छे संबंध रहे हैं और मुझे लगता है, की पीएम मोदी एख महान व्यक्ति हैं और भारत के लिए वो काफी अच्छा काम कर रहे हैं और उनके पास जो जिम्मेदारी है, वो कोई आसान जिम्मेदारी नहीं है।' वहीं, उन्होंने इंटरव्यू में आगे बोलते हुए कहा कि, 'मुझे लगता है कि भारत का मुझसे बेहतर दोस्त कभी नहीं रहा… मुझे लगता है कि मेरा रिश्ता, आपको प्रधानमंत्री मोदी से पूछना होगा, लेकिन मुझे नहीं लगता कि राष्ट्रपति ट्रम्प के अलावा किसी और के साथ आपके संबंध इससे बेहतर कभी नहीं रहे होंगे।'

Related Articles

Back to top button