International News : कनाडा में गैंगस्टर सुक्खा की हत्या, खालिस्तानी आतंकी अर्श डाला का था राइट हैंड

International News : गैंगस्टर सुखदूल सिंह उर्फ सुक्खा दुनुके की कनाडा में गोली मारकर हत्या कर दी गई है. आरोपी सुक्खा खालिस्तानी आतंकी अर्शदीप सिंह उर्फ अर्श डाला का राइट हैंड

International News : उज्जवल प्रदेश,पीनीपेग. कनाडा के पीनीपेग सिटी में भारत से फरार एक और गैंगस्टर की हत्या हो गई है. पंजाब से फरार होकर कनाडा में बैठे A कैटगरी के गैंगस्टर सुखदूल सिंह उर्फ सुक्खा दुनुके की कनाडा में गोली मारकर हत्या कर दी गई है. आरोपी सुक्खा खालिस्तानी आतंकी अर्शदीप सिंह उर्फ अर्श डाला का राइट हैंड था और एनआईए की वॉटेंड लिस्ट में शामिल था. सुक्खा कनाडा में बैठकर भारत में अपने गुर्गों के जरिए रंगदारी या उगाही का काम भी करता था.

सुखदूल सिंह उर्फ सुक्खा दुनेके ने कनाडा भागने के लिए 2017 में जाली दस्तावेजों के आधार पर पासपोर्ट और पुलिस क्लीयरेंस प्रमाणपत्र प्राप्त किया, जबकि उसके खिलाफ सात आपराधिक मामले दर्ज थे. पुलिस वालों से मिलीभगत करके उसने कनाडा का वीजा हासिल कर लिया था. डुनेके के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया था. पंजाब पुलिस के 2 कर्मियों पर उसकी मदद करने का आरोप लगा था, बाद में उन्हें मोगा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

निज्जर की गोली मारकर हुई थी हत्या

आपको बता दें कि इसी साल खालिस्तानी नेता हरदीप सिंह निज्जर की कनाडा में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. यहां सरे स्थित एक गुरुद्वारे के पार्किंग स्पेस के नजदीक दो नकाबपोश बंदूकधारियों ने निज्जर को गोली मार दी थी. उसकी हत्या के बाद कनाडा, लंदन और अमेरिका सहित कई जगहों पर खालिस्तानी समर्थकों ने विरोध प्रदर्शन कर भारत विरोधी नारे लगाए और निज्जर की हत्या के लिए भारत को जिम्मेदार ठहराया.

खालिस्तान के लिए जनमत संग्रह करने की कोशिश करने वाली जमात में हरदीप सिंह निज्जर का नाम काफी आगे था. वह पंजाब के जालंधर जिले के भारसिंहपुर गांव का रहने वाला था. हरदीप सिंह निज्जर को भारत की सुरक्षा एजेंसियों ने भगोड़ा और आतंकवादी घोषित कर रखा था. इसके अलावा, राष्ट्रीय जांच एजेंसी की ओर से निज्जर पर 10 लाख रुपये का इनाम घोषित किया गया था.

जस्टिन ट्रूडो ने भारत पर क्या आरोप लगाया?

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने सोमवार को कनाडा की संसद (हाउस ऑफ कामंस) में खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर हत्याकांड में भारत सरकार की संलिप्तता पर सवाल उठाते हुए कहा, “कनाडा की सुरक्षा एजेंसियां भारत सरकार और कनाडाई नागरिक हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के बीच की कड़ी के आरोपों की सक्रियता से जांच कर रही है. कनाडा की धरती पर कनाडा के नागरिक की हत्या में किसी अन्य देश या विदेशी सरकार की संलिप्तता बर्दाश्त नहीं की जाएगी. यह हमारी संप्रुभता का उल्लंघन है. यह पूरी तरह से अस्वीकार्य है.”

Related Articles

Back to top button