international News : ब्रिसबेन में खालिस्तान समर्थकों का मंदिर पर हमला,PM मोदी के लिए आपत्तिजनक बातें लिखी

international News :श्री लक्ष्मी नारायण का यह मंदिर ब्रिसबेन के दक्षिण में स्थित बरबैंक स्थित उपनगर में है।ऑस्ट्रेलिया टुडे ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि खालिस्तान समर्थकों ने मंदिर पर हमला किया है और नारे लिखे हैं।

Latest international News : उज्जवल प्रदेश, ब्रिसबेन . ऑस्ट्रेलिया में हिंदू देवी-देवताओं के मंदिरों में तोड़फोड़ की घटनाएं कम होती नजर नहीं आ रही हैं. ऑस्ट्रेलिया के ब्रिसबेन में एक मंदिर पर हमले की घटना हुई है. शनिवार को ऑस्ट्रेलिया के ब्रिसबेन शहर स्थित लक्ष्मी नारायण मंदिर में तोड़फोड़ की घटना हुई. लक्ष्मी नारायण मंदिर में तोड़फोड़ की इस घटना में खालिस्तान समर्थकों का हाथ बताया जा रहा है.

दो महीने के भीतर ऑस्ट्रेलिया में किसी मंदिर में तोड़फोड़ की यह चौथी घटना है. इस घटना के बारे में जानकारी उस वक्त मिली जब श्रद्धालु सुबह पूजा के लिए मंदिर पहुंचे. ऑस्ट्रेलिया टुडे के अनुसार, खालिस्तानी समर्थकों ने कथित तौर पर ब्रिसबेन के दक्षिण में बरबैंक में स्थित श्रीलक्ष्मी नारायण मंदिर में तोड़फोड़ की.

इससे पहले भी ब्रिसबेन में एक अन्य हिंदू मंदिर, गायत्री मंदिर को खालिस्तान चरमपंथियों से डराने-धमकाने वाले फोन आए थे. ये फोन पाकिस्तान के लाहौर शहर से किए गए थे. पाकिस्तान के लाहौर से की गई फोन कॉल कथित रूप से खालिस्तान समर्थकों ने किए थे.

ब्रिसबेन में है श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर

श्री लक्ष्मी नारायण का यह मंदिर ब्रिसबेन के दक्षिण में स्थित बरबैंक स्थित उपनगर में है। ऑस्ट्रेलिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक खालिस्तान समर्थकों ने मंदिर पर हमला किया था। मंदिर के पास रहने वाले एक स्थानीय निवासी रमेश कुमार ने कहा कि मैं जानता हूं कि मेलबर्न के हिंदू मंदिर में क्या हुआ। लेकिन इस तरह से लोगों के मन में नफरत का पैदा होना बहुत ही अजीब अनुभव है।

मंदिर के अध्यक्ष सतिंदर शुक्ला ने ऑस्ट्रेलिया टुडे से कहा कि मंदिर के पुजारी और भक्तों ने सुबह मुझे बुलाया और घटना के बारे में जानकारी दी। घटना को अंजाम देने वालों ने मंदिर की बाउंड्रीवॉल को नुकसान पहुंचाया है। सतिंदर शुक्ला ने कहा कि मंदिर की मैनेजमेंट कमेटी और पुलिस अधिकारियों के बीच मीटिंग हुई है। इस बारे में जल्द ही जानकारी दी जाएगी।

एसजेएफ की करतूत

गौरतलब है कि इससे पहले ब्रिसबेन में एक गायत्री मंदिर को पाकिस्तान स्थित खालिस्तानी उग्रवादियों से फोन पर धमकी मिली थी। हिंदू ह्यूमन राइट्स की निदेशक सारा एल गेट्स ने कहा कि यह तरीका सिख फॉर जस्टिस (एसजेएफ) का है। यह लोग ऑस्ट्रेलियाई हिंदुओं को डराना चाहते हैं। गेट्स ने कहा कि यह गुट तरह-तरह के प्रोपोगैंडा, गैरकानूनी निशानों, साइबर बुलिंग आदि के जरिए ऑस्ट्रेलिया में रहने वाले हिंदुओं को डराना चाहता है।

Related Articles

Back to top button