जिनपिंग सरकार का प्लान, गद्दार का नाम बताओ और लाखों का इनाम पाओ

नई दिल्ली
चीन सरकार राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरों को रिपोर्ट करने के लिए नागरिकों को 15 हजार डॉलर का रिवार्ड देगी। यह करीब 11.6 लाख रुपये का इनाम होगा। चीनी सरकारी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डालने वाले चीजों की खोज की ओर ले जाने वाली जानकारी या राष्ट्रीय सुरक्षा कसे जुड़े खतरे को मामले को रोकने या उसे सुलझाने में उनकी भूमिका के आधार पर 11.6 लाख रुपये तक का इनाम दिया जा सकता है।

रिवार्ड इन स्प्रिट का पुरस्कार भी दिया जा सकता है
चीन सरकार ने सुरक्षा उल्लंघन की जानकारी के लिए मौद्रिक पुरस्कार की पेशकश की है। सुरक्षा मंत्रालय द्वारा इसी सप्ताह जारी किया गया दिशानिर्देश इसी कड़ी का एक हिस्सा है। रिपोर्ट्स में यह भी बताया गया है कि संबंधित मामलों को रिपोर्ट करने या उसे सुलझाने पर उन्हें सर्टिफिकेट के तौर पर 'रिवार्ड इन स्प्रिट' का पुरस्कार भी दिया का सकता है।

राष्ट्रीय सुरक्षा के नाम पर जनता को एकजुट बनाए रखना चाहता है चीन?
एक्सपर्ट्स का कहना है कि चीन ने राष्ट्रीय सुरक्षा उल्लंघनों के प्रति सतर्क रहने के लिए अपने नागरिकों को प्रोत्साहित किया है। इसमें बच्चों को भी संभावित खतरों की तलाश में रहना आदि शामिल है। चीन राष्ट्रीय सुरक्षा के नाम पर आम जनता को एकजुट बनाए रखना चाहता है और यह चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के लिहाज से भी अनुकूल है।

राष्ट्रीय सुरक्षा का गलत इस्तेमाल करता रहा है चीन
किसी भी देश से राजनयिक तनाव के वक्त में चीन ने विदेशी नागरिकों को हिरासत में लेने के लिए भी राष्ट्रीय सुरक्षा के आड़ का इस्तेमाल किया है। उदाहरण के तौर पर चीन ने ऑस्ट्रेलियाई पत्रकार चेंग लेई को 2020 में राष्ट्रीय सुरक्षा उल्लंघनों के संदेह में हिरासत में लिया गया था और अगर गंभीर पाया जाता है कि उन्होंने उल्लंघन किया है तो उन्हें आजीवन कारावास की सजा दी जा सकती है।

Related Articles

Back to top button