तकनीकी खराबी से हुई मिसाइल लॉन्च ,यह अटैक नहीं-नेड प्राइस

न्यूयोर्क 

पाकिस्तान ने हाल ही में भारत पर उसके एयरस्पेस का उल्लंघन करने का आरोप लगाया गया था. दावा किया गया था पाकिस्तान में 124 किलोमीटर अंदर भारत की तरफ से आया ऑब्जेक्ट खानेवाल जिले में जा गिरा. हालांकि भारत ने इस पर स्पष्टीकरण दिया था कि यह तकनीकी खराबी के कारण हुई एक घटना थी. अब अमेरिका भी भारत के पक्ष में आ गया है. बता दें कि अमेरिका ने कहा कि यह महज एक आकस्मिक घटना थी, यह जानबूझकर किया गया अटैक नहीं था.

एजेंसी के मुताबिक अमेरिका के विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने कहा कि हमारे पास इस तरह के संकेत नहीं है कि यह सब जानकर किया गया था, इस बारे में भारत ने भी कहा है कि यह एक दुर्घटना के अलावा कुछ भी नहीं था.

बता दें कि भारत ने शुक्रवार को कहा था कि 2 दिन पहले गलती से एक मिसाइल लॉन्च हुई थी जो कि पाकिस्तान में गिरी, यह एक गलती से हुई घटना थी. जो कि नियमित रखरखाव के दौरान एक तकनीकी खराबी के कारण हुई थी.

वहीं पाकिस्तान ने कहा था कि वह मिसाइल की "आकस्मिक गोलीबारी" पर भारत की सफाई से संतुष्ट नहीं है. साथ ही पाक ने घटना के आसपास के तथ्यों को सटीक रूप से स्थापित करने के लिए एक संयुक्त जांच की मांग की है.

चीन ने की थी जांच की मांग

इस मामले ने चीन ने भी दखल दिया था. बता दें कि चीन ने इस घटना पर जांच की मांग करते हुए कहा था कि भारत और पाकिस्तान को जल्द से जल्द बातचीत करनी चाहिए और हाल ही में पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में भारत की ओर से एक मिसाइल की "आकस्मिक गोलीबारी" की गहन जांच शुरू करनी चाहिए.

Related Articles

Back to top button