पाकिस्तान: शहबाज कैबिनेट में हिना रब्बानी खैर सहित 5 महिलाओं को मिली जगह

इस्लामाबाद।
काफी मशक्कत के बाद मंगलवार को पाकिस्तान के 37 सदस्यीय मजबूत मंत्रिमंडल ने शपथ ली। मंत्रिमंडल के गठन में देरी ने गठबंधन सरकार के भीतर मतभेदों की अटकलों को जन्म दिया था, जिसे अब विराम दे दिया गया है। प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के नए मंत्रिमंडल में 31 मंत्री, तीन राज्य मंत्री और प्रधानमंत्री के कई सलाहकार हैं। पाकिस्तान की नई नवेली कैबिनेट में इसबार महिलाओं को उचित हिस्सेदारी मिली है। पांच महिलाओं ने मंत्री पद की शपथ ली। इननमें मरियम औरंगज़ेब, शेरी रहमान, शाज़िया मारी के अलावा राज्य मंत्री के तौर पर आयशा ग़ौस पाशा और हिना रब्बानी खार शामिल हैं।

महत्वपूर्ण पदों पर पांच महिलाओं के साथ मंत्रियों की नई टीम ने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के पिछले मंत्रिमंडल की उस छवि से खुद को अलग रखा है जो काफी हद तक पुरुष प्रधान था।  

हिना रब्बानी खैर
पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) की हिना रब्बानी खार को विदेश राज्य मंत्री बनाया गया है। इससे पहले, पीपीपी अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी को विदेश मंत्री के रूप में नामित किए जाने की खबरें आ रही थीं। लेकिन मंत्रियों की अंतिम सूची में भुट्टो का नाम शामिल नहीं था। यह स्पष्ट नहीं है कि पीपीपी अध्यक्ष को नई सरकार में मंत्रालय क्यों नहीं मिला है। दोनों ही नेताओं के इश्क के खूब चर्चे हुए थे। आपको बता दें कि फिलहाल विदेश मामलों के मंत्रालय को खाली छोड़ दिया गया है। हिना रब्बानी ने इसे अभी राज्य मंत्री के रूप में ही संभाला है। ऐसे में इस मामले पर अपनी पार्टी के भीतर मतभेदों के समाधान के बाद बिलावल के विदेश मंत्री बनने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है।

शेरी रहमान
अमेरिका में पाकिस्तान के पूर्व राजदूत शेरी रहमान को जलवायु परिवर्तन मंत्री बनाया गया है। पिछली सरकार जलवायु परिवर्तन के खतरे से निपटने में कम दिलचस्पी दिखा रही थी, यही वजह है कि यह मंत्रालय पीटीआई नेता जरताज गुल को दिया गया था, जिनके पास इस मामले में बहुत कम या कोई विशेषज्ञता नहीं थी। उन्होंने कोरोना को लेकर भी कई विवादित और हल्के बयान दिए। मंत्री के बेतुके बयानों ने खुलासा किया कि कैसे इस विषय पर जानकारी नहीं रखने वाला व्यक्ति पाकिस्तान की जलवायु परिवर्तन नीति का प्रभारी था। इस बात की संभावना जताई जा रही है कि शेरी रहमान को मंत्री बनाए जाने से पाकिस्तान के जलवायु परिवर्तन मंत्रालय को एक नई दिशा मिल सकती है। उन्होंने पहले सूचना मंत्री के रूप में काम किया था। उन्होंने मीडिया सेंसरशिप पर अपनी सरकार के साथ मतभेद विकसित होने के बाद 2019 में इस्तीफा दे दिया था।

मरियम औरंगजेब
पाकिस्तान मुस्लिम लीग-एन (पीएमएल-एन) की मुखर नेता मरियम औरंगजेब को पाकिस्तान का नया सूचना मंत्री बनाया गया है। मंगलवार को इस्लामाबाद में सूचना मंत्रालय पहुंचने पर, सूचना सचिव शाहेरा शाहिद, डीजी रेडियो पाकिस्तान मुहम्मद आसिम खिची और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया और उन्हें मंत्रालय के मामलों के बारे में जानकारी दी गई।

आयशा गौस पाशा
आयशा दौस पाशा भी मंत्री बनी हैं। वह पाकिस्तान के नए वित्त राज्य मंत्री के रूप में काम करेंगी। आयशा जून 2013 में महिलाओं के लिए आरक्षित सीट पर पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एन) (पीएमएल-एन) के उम्मीदवार के रूप में पंजाब की प्रांतीय असेंबल के लिए चुनी गईं। मई 2015 में उन्हें प्रधानमंत्री के प्रांतीय कैबिनेट में शामिल किया गया।  उन्हें पंजाब का वित्त मंत्री बनाया गया था। वह 2018 के पाकिस्तानी आम चुनाव में पंजाब की महिलाओं के लिए आरक्षित सीट पर PML-N के उम्मीदवार के रूप में पाकिस्तान की नेशनल असेंबली के लिए चुनी गईं।

शाजिया मारी
शाजिया 2002 के पाकिस्तानी आम चुनाव में सिंध की प्रांतीयअसंबेल के लिए चुनी गईं। उन्हें 2008 से 2010 तक सिंध के प्रांतीय मंत्री के रूप में नियुक्त किया गया। वह 2008 में सिंध की प्रांतीय असेंबली के लिए फिर से चुनी गईं। उन्होंने महिलाओं के लिए आरक्षित सीट पर PS-133 से पाकिस्तानी आम चुनाव में जीत हासिल किया था। जुलाई 2012 में उन्होंने अपनी सीट से इस्तीफा दे दिया। जुलाई 2012 में वह सिंध की महिलाओं के लिए आरक्षित सीट पर पीपीपी के उम्मीदवार के रूप में पाकिस्तान की नेशनल असेंबली के लिए चुनी गईं। 

Related Articles

Back to top button