पाकिस्तान: आसमान छू रहीं ईंधन की कीमतें, नाराज लोगों ने पेट्रोल पंप में की तोड़फोड़

कराची
पाकिस्तान में ईंधन की कीमतों में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में वृद्धि से दाम अब आसमान छूने लगे हैं।  इसके चलते पड़ोसी मुल्क में इसका विरोध भी तेज हो गया है। कीमतों में इजाफे का विरोध करते हुए कराची के मध्य जिले में पुरानी सब्जी मंडी के पास एक पेट्रोल पंप पर आज कुछ लोगों ने हमला कर दिया।

पेट्रोल-पंप पर किया पथराव
खाली विरोध ही नहीं गुस्साए पाकिस्तानियों ने पथराव किया और पंप में तोड़फोड़ की। ईंधन की बढ़ी हुई कीमतों को लेकर प्रदर्शनकारियों में पहले से ही गुस्सा था लेकिन पेट्रोल पंप द्वारा ईंधन की आपूर्ति बंद करने के बाद यह गुस्सा और बढ़ गया।

लरकाना में टायरों में लगाई आग
लरकाना में भी नागरिक पेट्रोल की कीमत में वृद्धि के खिलाफ लगातार प्रदर्शन हो रहे हैं। एआरवाई न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, कुछ गुस्साए नागरिकों ने लरकाना के जिन्ना बाग चौक पर टायरों में आग लगा दी जिससे स्थिति और खराब हो गई। विशेष रूप से प्रधानमंत्री शहबाज के नेतृत्व वाली सरकार ने अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की मांगों को मान लिया है और ईंधन सब्सिडी को हटा दिया जिससे पेट्रोल की कीमत में 30 रुपये की वृद्धि हुई है।

पाकिस्तान में 209 के पार पेट्रोल के दाम
बता दें कि पाकिस्तान (Pakistan) में ईंधन की कमी के चलते दामों में बड़ा इजाफा हुआ है जिससे महंगाई (Inflation) भी चरम पर पहुंच गई है। पाकिस्तान के वित्त मंत्री मिफ्ताह इस्माइल ने बीते दिन ही पेट्रोल की कीमतों में 30 रुपए की बढ़ोतरी की घोषणा की है। इससे पेट्रोल 209 रुपये 86 पैसे और डीजल के दाम 204 बढ़कर रुपये 15 पैसे हो गए हैं। पड़ोसी देश में एक हफ्ते में दूसरी बार दामों में यह इजाफा देखा गया है। वहीं वहां के पीएम शहबाज से इसके लिए पिछली सरकार को दोषी ठहराया है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने रूस के साथ अच्छे रिश्ते नहीं रखे जिससे देश को इस तरह की स्थिति का सामना करना पड़ रहा है।

Related Articles

Back to top button