स्‍पेन की Bull Race को रोकने की उठ रही आवाजें, 10 की हो चुकी है मौत

मैड्रिड
भारत के तमिलनाडु में जिस तरह से जलीकट्टू को लेकर विवाद छिड़ा हुआ है उसी तरह से अब स्‍पेन में होने वाली बुल रेस भी सवालों के घेरे में हैं। इसकी वजह है इसमें होने वाली मौत। दुनिया के कई देशों में भारी भरकम बुल के साथ कई तरह के रौंगटे खड़े कर देने वाले खेल होते हैं। उनमें से एक बुल रेस भी है। बुल रेस में स्‍पेन में इस वर्ष में ही 10 मौतें हो चुकी हैं। इसकी वजह से अब इस पर रोक लगाने को लेकर आवाजें उठ रही हैं। स्‍पेन के वेलेंसिया में प्रैक्टिस के दौरान ही सात लोगों की मौत होने से ये मांग ठने लगी है कि इसको रोका जाना चाहिए। यहां पर होने वाली रेस में बुल के आगे आगे लोग भागते हैं। कई बार ये खेल देखते ही देखते लोगों को लगने वाली खतरनाक चोट और चीख से भी गूंज उठता है।

इस तरह के खेलों में सांड या भारी भरकम भैंसे के सींगों से अधिकतर चोट लगती हैं। इसके अलावा दौड़ते समय एक दूसरे से टकराने से भी खतरनाक चोट लगती हैं। इसमें केवल वही लोग चोट नहीं खाते हैं जो इन भैंसों के आगे भागते हैं बल्कि वो लोग भी इसका शिकार होते हैं जो दर्शकदीर्घा में होते हैं। बुल का खतरनाक रूप किसी को भी डरा देने में सक्षम होता है। स्‍पेन की ही बात करें तो कई देशों की ही तरह यहां पर भी इस खेल की प्राचीन परंपरा है। इस तरह के खेलों में अधिकतर युवा ही हिस्‍सा लेते हैं। इसके बाद भी इनकी वजह से यदि जान जाने की बात करें तो ये लगभग हर उम्र के व्‍यक्ति की होती है।

स्‍पेन में जिन सात लोगों की जान प्रैक्टिस में गई है उनमें छह पुरुष और एक महिला शामिल है। स्‍पेन में गर्मियों के दिनों में खेले जाने वाले इस खेल का नाम San Fermin Festival है जो स्‍पेन के उत्‍तर में Paplona में आयोजित किया जाता है। यहां पर होने वाले इस खेल को एक तंग से गली में खेला जाता है, जहां लोगों की भीड़ के पीछे कई सांडों को दौड़ा दिया जाता है। इंडोनेशिया में भी इस तरह की एक रेस का आयोजन किया जाता है। ये आयोजन जावा द्वीप पर किया जाता है।

Related Articles

Back to top button