पुल से जुड़ गए रूस और चीन, बीजिंग और मॉस्को के बीच और मजबूत होंगे संबंध

नई दिल्ली

रूस और चीन के बीच संबंध प्रगाढ़ होते जा रहे हैं। इसी कड़ी में दोनों देशों के बीच पहले सड़क पुल का उद्घाटन किया गया है। अमूर नदी पर एक किलोमीटर लंबा पुल सुदूर पूर्वी रूसी शहर ब्लागोवेशचेंस्क को उत्तरी चीन के हीहे से जोड़ता है। रिपोर्ट्स बताती हैं कि पुल का निर्माण दो साल पहले पूरा हो गया था लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण इसका उद्घाटन स्थगित कर दिया गया था।

2550 करोड़ रुपये की लागत से बना है पुल
10 जून को ब्लागोवेशचेंस्क में एक समारोह के दौरान पुल को माल ढुलाई के लिए खोल दिया गया। पहले ट्रक के गुजरने के साथ ही आतिशबाजी की गई। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार दो ट्रैफिक लेन वाले इस पुल की लागत करीब 2550 करोड़ रुपये है।

1980 के दशक से दोनों देशों ने सहयोग में की बढ़ोतरी
यूक्रेन पर रूसी आक्रमण को लेकर चीन खुलकर रूस के साथ नजर आ रहा है। पिछले कुछ सालों में रूस और चीन ने राजनीतिक और आर्थिक सहयोग में बढ़ोतरी की है और यह लगातार जारी है। रूस और चीन के बीच व्यापार 1980 के दशक के अंत में दोनों के बीच संबंधों के सामान्य होने के बाद से फला-फूला है।

 

Related Articles

Back to top button