अमेरिका के मिसौरी में ट्रेन हादसा तीन की मौत,50 घायल

मेंडॉन
 लॉस एंजिलिस से शिकागो जा रही एक एमट्रैक यात्री ट्रेन सोमवार को मिसौरी के सुदूर इलाके में पटरी से उतर कर एक ट्रक से टकरा गई, जिससे तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि कई अन्य लोग घायल हो गए। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

‘मिसौरी स्टेट हाईवे पेट्रोल’ के प्रवक्ता जस्टिन डन ने बताया कि हादसे में जान गंवाने वाले लोगों में से दो लोग ट्रेन में सवार थे और एक व्यक्ति ट्रक में मौजूद था। हादसे में घायल हुए लोगों की सटीक संख्या अभी पता नहीं चल पाई है।

अस्पतालों से मिली जानकारी के अनुसार, अब तक 40 से अधिक लोगों को भर्ती कराया गया है और कई अन्य घायलों को अस्पताल लाए जाने की आशंका है।

डंप ट्रक से टकराई ट्रेन
एमट्रैक ने कहा कि ट्रेन सोमवार दोपहर करीब 12:42 बजे मेंडन शहर के पास एक सार्वजनिक क्रॉसिंग पर डंप ट्रक से टकरा गई। कंपनी के अधिकारियों ने एक अद्यतन बयान में कहा, "मेंडन, मिसौरी के पास एक सार्वजनिक क्रॉसिंग को बाधित कर रहे एक ट्रक से टकराने के बाद आठ कारों और दो लोकोमोटिव ने ट्रैक छोड़ दिया।" डन ने संवाददाताओं से कहा कि सात कारें पटरी से उतर गईं।एमट्रैक ने पहले कहा था कि ट्रेन में लगभग 243 यात्री और चालक दल के 12 सदस्य सवार थे

राजमार्ग गश्ती दल के अनुसार, एमट्रैक यात्री ट्रेन में करीब 207 यात्री और चालक दल के सदस्य मौजूद थे। टक्कर मेंडॉन के पास एक ग्रामीण इलाके के चौराहे पर एक सड़क पर हुई। उस इलाके में रोशनी की उचित व्यवस्था नहीं थी। ट्रेन के सात डिब्बे पटरी से उतर गए थे। अधिकारी ट्रेन में सवार लोगों की सटीक संख्या का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं।

स्लीपर कार वाले एक यात्री रॉबर्ट नाइटिंगेल ने कहा कि जब उसने कुछ सुना तो वह झपकी ले रहा था। यह सब स्लो मोशन की तरह हुआ। यह हिलने लगा और फिर अचानक कुछ हुआ, सारी धूल मेरी खिड़की से अंदर आ गई। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों ने यात्रियों को बाहर निकालने में मदद की। ऐसा लग रहा था जैसे ट्रक में बड़े पत्थर थे।

अमेरिका के बॉय स्काउट्स के राष्ट्रीय मीडिया के निदेशक स्कॉट आर्मस्ट्रांग ने सोमवार को सीएनएन को बताया कि एपलटन, विस्कॉन्सिन के दो बॉय स्काउट सैनिक एमट्रैक ट्रेन में थे और उन्होंने घायल लोगों की सहायता की। आर्मस्ट्रांग ने कहा कि ट्रेन में सवार स्काउट्स की उम्र 14 से 17 साल के बीच होती है और पुष्टि की कि उनमें से कोई भी घायल नहीं हुआ। ये सभी आठ वयस्क सैनिकों के साथ थे।  

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button