टोक्यो: भारत-जापान 2+2 मंत्री स्तर की वार्ता, राजनाथ सिंह ने कहा- दोनों देशों के बीच संबंधों में उल्लेखनीय प्रगति

टोक्यो
भारत जापान के बीच हो रहे 2+2 मंत्रीस्तरीय वार्ता में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) और EAM एस जयशंकर (S Jaishankar) गुरुवार को शामिल हुए। टोक्यो में आयोजित इस इवेंट में राजनाथ और जयशंकर अपने जापानी समकक्षों के साथ मौजूद हैं।

दोनों देशों के बीच लंबा सांस्कृतिक संबंध- राजनाथ सिंह
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, 'हाल के दिनों में हमारे द्विपक्षीय संबंधों में उल्लेखनीय प्रगति हुई है। दोनों देशों के बीच एक लंबा सांस्कृतिक और नागरिक संबंध रहा है।'  उन्होंने आगे कहा, 'इस साल हम अपने राजनयिक संबंधों की 70वीं सालगिरह मना रहे हैं। इसके लिए दिसंबर में नई दिल्ली में एक इवेंट आयोजित कर हमें सम्मानित महसूस हो रहा है। इसमें दोनों देशों के हमारे जवान शामिल होंगे।'

अहम है भारत-जापान के बीच साझेदारी
वहीं विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा, 'हाल में हमारे नेताओं की मुलाकात दोनों देशों के बीच निरंतर संबंधों की मजबूती का प्रमाण है।' भारत-जापान की साझेदारी काफी अहमियत रहती है। यह हमारे लोकतंत्र, आजादी और कानून के सम्मान को लेकर साझा मूल्यों में निहित है। पिछले कुछ सालों में दोनों देशों के संबंध को नए आयाम मिले हैं जो हमारे हालिया द्विपक्षीय और संबंधों में दिख रही है।'

कोरोना महामारी के दौरान भारत के योगदान का किया उल्लेख
विदेश मंत्री ने कहा, 'अंतरराष्ट्रीय समुदाय के जिम्मेदार सदस्य होने के नाते भारत मानवीय सहायता, दवाईयां, वैक्सीन, अनाज के साथ विभिन्न जरियों से मदद उपलब्ध कराने के अथक प्रयास किए। इस तरह की चुनौतियों का सामना करने के लिए हमें सामूहिक तौर पर काम करना होगा और वार्ता के जरिए एक सामान्य समाधान निकालना होगा।' उन्होंने आगे कहा, '2019 में हुई हमारी मुलाकात के बाद से हुए विकासों के हम गवाह रहे हैं। कोरोना महामारी व जारी संघर्षों की मांग के साथ हम नई चुनौतियों का सामना कर रहे हैं। ऊर्जा संरक्षण व खाद्य सुरक्षा इन मुद्दों में शामिल हैं।' इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने अपने जापानी समकक्ष यासुकाजु हमदा (Yasukazu Hamada) से मुलाकात की और कहा कि दोनों देशों के बीच विशेष द्विपक्षीय रणनीति और वैश्विक साझेदारी है। इसके कारण ही हिंद प्रशांत क्षेत्र में स्वतंत्र माहौल है। रक्षा मंत्री सोमवार, 5 सितंबर से पांच दिनों के लिए मंगोलिया व जापान की यात्रा पर हैं।

रक्षा मंत्री ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी और बताया, 'जापान के रक्षा मंत्री यासुकाजु हमदा से टोक्यो में आज मुलाकात हुई जिसमें द्विपक्षीय रक्षा सहयोग व अन्य मामलों के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा हुई। दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध के इस साल 70 वर्ष पूरे हो रहे हैं।'

रक्षा मंत्री ने गुरुवार को जापान के सेल्फ डिफेंस जवानों को श्रद्धांजलि दी जो ड्यूटी निभाते हुए बलिदान हो गए। उन्होंने ट्वीट कर तस्वीरें साझा की और लिखा, 'जापान के आत्म सुरक्षा बल के जवानों को मेरी श्रद्धांजलि जिन्होंने देश के लिए अपना कर्तव्य निभाते हुए अपनी जान दे दी।'

जापानी प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा के भारत दौरे के पांच माह से अधिक समय बीत जाने के बाद यह ‘2+2' वार्ता हो रही है। सलाना भारत-जापान शिखर सम्मेलन के लिए किशिदा दिल्ली आए थे।

Related Articles

Back to top button