अपने बैंक अकाउंट और मोबाइल नंबर से आधार नंबर को हटाने का तरीका

आजकल आधार कार्ड पर काफी चर्चाएं हो रही है। इतनी चर्चा होने का कारण सुप्रीम कोर्ट का आधार कार्ड पर नया फैसला है। सुप्रीम कोर्ट में फैसला तो आधार के पक्ष में सुनाया लेकिन उसमें कुछ शर्तें भी रखी। जिसके अनुसार अब कुछ जगहों पर आधार कार्ड की कोई जरूरत नहीं होगी। जैसे बैंक, स्कूल-कॉलेजों में एडमिशन, मोबाइल सिम जैसी कई चीजों में आधार कार्ड की कोई आवश्कता नहीं होगी।

आधार पर "सुप्रीम" फैसला
आधार कार्ड को मान्य करने को लेकर कई सवाल अभी तक उठाए जा रहे हैं। डेटा उल्लंघन रिपोर्टों के आधार पर 31 याचिकाओं को चुनौती दी गई थी। जिसमें बताया गया है कि आधार कार्ड से नागरिक की गोपनियता को नुकसान पहुंच सकता है। जिसके बाद सर्वोच्च न्यायालय ने फैसला लिया कि अब अपने आधार को बैंक खाते और मोबाइल नंबर से जोड़ना अनिवार्य नहीं होगा।

हर जगह जरूरी नहीं आधार
अनुसूचित जाति ने आधार अधिनियम, 2016 के तहत धारा 57 और धारा 33 (2) को भी मुद्दा बनाया है। जिसका अर्थ है कि निजी और कॉर्पोरेट कंपनियां आपसे आधार मांग नहीं सकती हैं। साथ ही वह आपके बॉयोमीट्रिक डेटा तक भी नहीं पहुंच सकते। इसका अर्थ यह है कि अब आपको अपने 12 अंकों के आधार नंबर की जरूरत बैंक खाता खोलने, या एक नया सिम कनेक्शन पाने के लिए नहीं पडेगी।

अपने आधार नंबर को डिलिंक कैसे करें
हालांकि, एलपीजी सब्सिडी और कल्याण से संबंधित योजनाओं के लिए, आपको अभी भी अपने आधार को जोड़ने की आवश्यकता होगी। इसलिए, अगर आप अपने आधार नंबर को अपने बैंक खाते या मोबाइल नंबर से हटाना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए चरणों का पालन करें।

अपने आधार को बैंक खाते या मोबाइल नंबर से कैसे डिलींक करें?
1. शुरूआत करने के लिए सबसे पहले आपको व्यक्तिगत रूप से अपनी बैंक शाखा या दूरसंचार ऑपरेटर स्टोर पर जाना होगा।
2. आपको आधार डेटा के साथ आपकी सहमति के बारे में एक लिखित आवेदन देना होगा। जिसमें आप लिखेंगे की आप इसे अपने डेटाबेस से हटाना चाहते हैं।
3. आवेदन देने के बाद आपका आधार नंबर 48 घंटों के भीतर हटा दिया जाएगा। चेक करने के लिए, आप कस्टमर सेंटर को इसके बारे में पूछताछ के रूप में कॉल कर सकते हैं।
यह भी पढ़ें:- आधार कार्ड को घर बैठे अपडेट करने का सबसे आसान तरीका

पेटीएम जैसे ई-वॉलेट से अपना आधार कैसे डिलींक करें
1. सबसे पहले आपको 01204456456 पर पेटीएम कस्टमर सेंटर को कॉल करने की जरूरत होगी। जिसके बाद आपको प्रतिनिधि को बतावा होगा कि आप अपने आधार को अनलिंक करना चाहते हैं।
2. जिसके बाद कंपनी आपको एक ई-मेल भेजेगी और आपकी हाल की तस्वीर, और आपके आधार कार्ड की स्पष्ट तस्वीर मांगेगी।
3. एक बार ईमेल का जवाब देने के बाद आपकी प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। साथ ही डिलिंकिंग की पुष्टि 72 घंटे के भीतर आपको भेजी जाएगी। दोबारा सुनिश्चित करने के लिए, आप कस्टमर सेंटर को कॉल कर सकते हैं और डीलिंकिंग की स्थिति पूछ सकते हैं।इसी प्रकार, आप Mobikwik और फ्रीचार्ज कस्टमर सेंटर को कॉल करके प्रक्रिया पूछ सकते हैं। ध्यान दें, बैंक आधार और मोबाइल नंबर के साथ अपने आधार को जोड़ने के लिए कोई अनिवार्य नहीं है, फिर भी आपको अपने आयकर रिटर्न दाखिल करने के लिए इसे पैन से जोड़ने की आवश्यकता होगी।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group