इस समय खाते हैं खाना तो हो जाएं सावधान, हो सकता है कैंसर

एक स्टडी की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि दिन में खाया हुआ सबसे आखिरी खाने का समय कैंसर जैसी घातक बीमारी के लिए जिम्मेदार हो सकता है.

शोधकर्ताओं ने पाया कि रात का खाना खाते ही सोने वाली महिलाओं और पुरुषों में ब्रेस्ट और प्रोस्टेट कैंसर का खतरा अधिक होता है. जबकि, रात 9 बजे से पहले या रात को सोने से करीबन 2 घंटा पहले डिनर करने से ब्रेस्ट और प्रोस्टेट कैंसर के खतरे को 20 फीसदी तक कम किया जा सकता है.

बार्सिलोना इंस्टीट्यूट में हुई इस स्टडी को इंटरनेशनल जर्नल ऑफ कैंसर में प्रकाशित किया गया है.

स्टडी के दौरान शोधकर्ताओं ने ये जानने की कोशिश की है कि खाने का समय ब्रेस्ट और प्रोस्टेट कैंसर के लिए कितना जिम्मेदार होता है.

शोधकर्ताओं ने स्टडी के दौरान 621 प्रोस्टेट कैंसर से पीड़ित और 1,205 लोग ब्रेस्ट कैंसर से जूझ रहे लोगों के डेटा की जांच की.

शोधकर्ताओं ने स्टडी में शामिल लोगों से उनकी खाने और सोने की आदतों के बारे में कई सवाल करके उनमें कैंसर के खतरे को जानने की कोशिश की है.

स्टडी में शामिल ज्यादातर लोग ऐसे पाए गए जो ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर करते हैं. कुछ लोग ऐसे भी सामने आए जो दोपहर के खाने के बाद स्नैक्स लेते हैं. जबकि, 7 फीसदी लोग डिनर करने के बाद स्नैक्स लेते हैं.

शोधकर्ताओं ने पाया कि जो लोग रात का खाना खाने के करीब 2 घंटे के बाद सोते हैं, ऐसे पुरुष और महिलाओं में प्रोस्टेट और ब्रेस्ट कैंसर होने का खतरा खाते ही सोने वालों के मुकाबले 20 फीसदी तक कम होता है.

इसके अलावा स्टडी की रिपोर्ट में ये भी दावा किया गया है कि जो लोग रात का खाना 9 बजे से पहले खाते हैं, उनमें रात को 10 बजे के बाद खाना खाने वालों के मुकाबले कैंसर का खतरा बेहद कम होता है. हालांकि, शोधकर्ताओं का कहना है कि इसपर अभी और रिसर्च करने की जरूरत है.

शोधकर्ताओं ने ये भी बताया कि नाइट शिफ्ट करने वालों में शरीर की बायोलॉजिकल रिदम खराब होने के कारण भी कैंसर का खतरा बढ़ जाता है.

यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के क्लीनिकल प्रोफेसर Katie Ferraro, ने बताया कि जो लोग नाइट शिफ्ट में काम करते हैं उनका वजन जल्दी बढ़ता है.

उन्होंने यह भी बताया कि नींद का पैटर्न बदलने से शरीर में हार्मोन का संतुलन बिगड़ जाता है. दूसरा रात में जागने से आपको भूख भी लगती है और आप कुछ न कुछ खाते रहते हैं, जो आपका वजन बढ़ाता है.

शोधकर्ताओं का कहना है कि इन चीजों के अलावा कई दूसरी भी ऐसी चीजें हैं, जो कैंसर के लिए जिम्मेदार होती हैं. समस के साथ-साथ आप क्या खाते हैं वह भी कैंसर के लिए जिम्मेदार होता है. इसलिए अगर कैंसर से सुरक्षित रहना चाहते हैं तो खाने के समय के साथ-साथ खाने की आदतों पर भी ध्यान देना बेहद जरूरी है.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group