डेंगू में दवा के साथ आयुर्वेदिक इलाज कारगर

बिन मौसम हो रही बारिश और मौसम में अचानक आए बदलाव की वजह से डेंगू, मलेरिया के मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। वैसे तो डेंगू बुखार तकरीबन 7-10 दिनों तक बना रहता है और कई बार अपने आप ही ठीक हो जाता है। लेकिन डेंगू हेमरेजिक फीवर थोड़ा खतरनाक होता है और इसमें खून के प्लेटलेट्स और W.B.C. की संख्या कम होने लगती है। ऐसी स्थिति में दवा के साथ ही अगर आयुर्वेदिक इलाज किया जाए तो मरीज जल्दी ठीक हो सकता है। हम आपको बता रहे हैं उस सब्जी के बारे में जो डेंगू, मलेरिया के मरीजों के लिए रामबाण का काम कर सकता है….

इम्यूनिटी बढ़ाता है कद्दू
उस सब्जी का नाम है कद्दू। आमतौर पर लोग कद्दू की सब्जी ही खाते हैं, मगर सब्जी से ज्यादा फायदेमंद इसका जूस होता है। डेंगू-मलेरिया ही नहीं बल्कि किसी भी बीमारी में सबसे पहले शरीर की इम्यूनिटी बेहतर करनी जरूरी है ताकि शरीर रोग से लड़ने लायक हो जाए और कद्दू का जूस शरीर को अंदर से मजबूत बना देता है और शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यूनिटी बढ़ जाती है। हालांकि इम्यूनिटी एक-दो दिन में नहीं बढ़ती। इसके लिए लंबे समय तक रुटीन का ध्यान रखना पड़ता है।

बकरी का दूध भी फायदेमंद
कद्दू के जूस के अलावा बकरी का दूध, पपीते की पत्तियां और गिलोय का रस भी खून में कम हो रहे प्लेटलेट्स की संख्या को फिर से नॉर्मल करने में मदद करता है। दरअसल, बकरी का दूध सुपाच्य होता है। आयुर्वेद में बताया गया है कि बकरी का दूध डेंगू के बुखार से निकलने में कारगर होता है।

दिल को मजबूत बनाए
कद्दू का रस इम्यूनिटी स्ट्रॉन्ग करने के साथ ही दिल को मजबूत बनाता है। दिल से संबंधित बीमारियां जैसे हार्ट अटैक, हार्ट स्ट्रोक आदि में कद्दू का रस बेहद लाभदायक होता है। साथ ही इसमें धमनियों को साफ करने के गुण होते हैं। इसमें उपस्थित ऐंटिऑक्सिडेंट धमनियों की दीवारों को सख्त होने से रोकता है।

पाचन शक्ति बढ़ाए
कद्दू का रस पाचन शाक्ति बढ़ाता है, जिससे शरीर स्वस्थ रहता है। दस्त और कब्ज दोनों ही समस्या में इसका सेवन बहुत मददगार होता है। इसके अलावा कद्दू का रस पीने से शरीर की गंदगी और विषैले पदार्थ यूरीन के माध्यम से बाहर निकाल जाते हैं। इसके रोगनाशक गुण अल्सर और ऐसिडिटी के इलाज में बहुत सहायक होते हैं।

पथरी की समस्या में लाभकारी
किडनी में पथरी की समस्या से परेशान लोगों के लिए कद्दू का रस बहुत फायदेमंद होता है। अगर आप किडनी में पथरी की समस्या से परेशान हैं तो 10 दिन तक लगातार दिन में तीन बार आधा गिलास कद्दू के रस का सेवन करें। किडनी की परेशानी भी इसका रस पीने से ठीक होने लगती है।

त्वचा की देखभाल करे
कद्दू के रस में प्रचूर मात्रा में विटमिन सी, विटमिन ई और बीटा-कैरोटीन होता है, जो त्वचा को जवां, नर्म और चमकदार बनाए रखता है। इसके अलावा यह झुर्रियों से बचाता है और त्वचा को हाइड्रेट भी करता है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group