तो अब एक गोली से रुक जाएगी बढ़ती उम्र, 150 साल जी सकेंगे लोग!

झुकते घुटने, चेहरे पर झुर्रियां और हर एक दिन बीतने के साथ हम मौत के नजदीक पहुंचते जाते हैं. उम्र की किसी भी इंसान से दोस्ती नहीं रही है.
मनुष्य के जीवन की सबसे बड़ी विडंबना है कि वह हमेशा जवान रहना चाहता है लेकिन चाहकर भी अपनी उम्र को थाम नहीं सकता है.

हालांकि उम्र को बढ़ने से तो रोका नहीं जा सकता है लेकिन वैज्ञानिकों ने एक ऐसी खोज की है जिससे बुढ़ापे की प्रक्रिया जरूर धीमी हो जाएगी यानी आप बहुत धीरे-धीरे बूढ़े होंगे.

2020 तक इस तकनीक की मदद से मानव अंगों को फिर से नयी जिंदगी दी जाएगी और इंसान 150 साल तक जी सकने में सक्षम होंगे.

हार्वर्ड प्रोफेसर डेविड सिनक्लेयर और न्यू साउथ वेल्स के शोधकर्ताओं ने एक नयी तकनीक विकसित की है जिससे उम्र ढलने की प्रक्रिया को धीमा किया जा सकेगा.  

इसमें कोशिकाओं की रीप्रोग्रामिंग की जाएगी. इससे ना केवल लोगों को अपने अंगों को नए सिरे से ग्रोथ करने में मदद मिलेगी बल्कि पैरालाइस्ड लोग फिर से चल-फिर सकेंगे.  

इस शोध को मानव परीक्षण 2 साल में शुरू हो जाएगा.

इस रिसर्च में पाया गया कि चूहों को विटामिन बी डेरिवेटिव पिल्स देकर उनका जीवनकाल 10 फीसदी तक बढ़ाया जा सकता है.

इसके अलावा एक अच्छी बात यह सामने आई कि यह गोली उम्र के साथ बाल झड़ने की समस्या को भी कम करने में मददगार थी.

इस नई तकनीक में मॉल्क्यूल नाइकोटिनामाइड डिनूक्लेटाइड (NAD) का विज्ञान काम करता है. इसे मानव शरीर में ऊर्जा उत्पन्न करने में सक्षम माना जाता है. इस रसायन का इस्तेमाल पहले ही पार्किन्सन रोग और जेट लैग से लड़ने में किया जा चुका है.

प्रोफेसर सिनक्लेयर खुद एजिंग प्रोसेस को रोकने के लिए अपनी बनाई दवा ले रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस गोली को खाने के बाद से उनकी उम्र 24 साल तक घट गई है.

प्रोफेसर सिनक्लेयर ने दावा किया कि उनके पिता डेढ़ साल पहले इस गोली को लेने के बाद अब उनके पिता एडवेंचर स्पोर्ट्स जैसे-वाटर राफ्टिंग में हिस्सा लेने लगे हैं.

वह आगे कहते हैं, अगर आपको इस बुढ़ापे को रोकने वाले चमत्कार पर यकीन ना हो तो बता दूं कि इस ट्रीटमेंट को लेने के बाद मेरी साली की 40 की उम्र में फर्टिलिटी वापस आ गई

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button