बच्चों में ऐसे डालें हेल्दी खाना खाने की आदत

अपोलो हॉस्पिटल की न्यूट्रिशनिस्ट डॉ प्रियंका रोहतगी कहती हैं, 'बच्चे के जन्म के बाद के शुरुआती 2 हजार दिन यानी करीब 5-साढ़े 5 साल बच्चे के विकास के लिए बेहद अहम होते हैं और यही वो वक्त होता है जब आप अपने बच्चे में पोषण से भरपूर अच्छी आदतें विकसित कर सकती हैं। इस उम्र में बच्चे का मेटाबॉलिज्म और विकास दोनों ही बेहद तेज गति से होता है। इसी उम्र में शरीर में पैट बनना शुरू होता है। ऐसे में अगर आप अपने बच्चे को उसके शरीर की जरूरत से ज्यादा फैट खिलाती हैं तो शरीर में फैट जमना शुरू हो जाएगा जिससे बाद के सालों में फैट बर्न करना और वजन घटाना मुश्किल हो जाता है।'

बच्चे को खुद से खाने दें
डॉ प्रियंका कहती हैं कि एक बार आपका बच्चा चलना शुरू कर दें यानी करीब 1-डेढ़ साल की उम्र का हो जाए उसके बाद माता-पिता को बच्चे को अपने हाथों से खाना खिलाना बंद कर देना चाहिए। बच्चे में यह आदत विकसित करें कि वह स्वतंत्र होकर खुद से बैठे और खुद से अपना खाना खाए। ऐसा करने से आपका बच्चा न तो खाने में मीन-मेख निकालेगा और ना ही उसे खाना खिलाने में आपको किसी तरह की परेशानी उठानी पड़ेगी। उसकी प्लेट में जो दिया जाएगा वह उसे खाएगा।

पहले अपनी आदत सुधारें
डॉ रोहतगी कहती हैं, बच्चे वही करते हैं जो वे अपने माता-पिता को करते हुए देखते हैं। लिहाजा अगर आप चाहती हैं कि आपके बच्चे हेल्दी खाना खाएं तो आपको भी हेल्दी खाना ही खाना चाहिए। अगर पैरंट्स की लाइफस्टाइल हेल्दी होगी तो बच्चे अपने आप ही उसे फॉलो करेंगे। अगर पैरंट्स घर का खाना खाएंगे, समय पर सोएंगे और सुबह जल्दी उठेंगे तो बच्चे भी ऐसा ही करेंगे। सबसे जरूरी है कि पैरंट्स खाते वक्त गैजट्स से दूर रहें ताकि बच्चों में भी इस आदत को विकसित किया जा सके।

खाना बर्बाद न करें
खाना बर्बाद न करना और खाना परोसते वक्त जितनी जरूरत हो उतना ही लेना, इन दोनों बातों को बच्चों को सिखाना सबसे जरूरी है। अक्सर लोग ज्यादा खाना थाली में ले लेते हैं और वह बर्बाद न हो इस वजह से ओवरईटिंग करते हैं जो मोटापा और कई दूसरी बीमारियों की सबसे बड़ी वजह बनता है।

बच्चे को न्यूट्रिशन का महत्व समझाएं
बच्चों को न्यूट्रिशन यानी पोषण का महत्व समझाना बेहद मुश्किल काम है लेकिन आप चाहें तो रंगों के जरिए बच्चों को इसका महत्व समझा सकती हैं। बच्चों की अच्छी सेहत बनी रहे इसके लिए जरूरी है कि वे हर दिन 7 रंग की चीजें खाएं और इस तरह आप रंगों के जरिए उन्हें पोषण का महत्व समझा सकती हैं। किस रंग का हमारे शरीर के लिए क्या महत्व है, इस बारे में बच्चों को बताएं।

बच्चों को ये चीजें न खिलाएं
हाई फैट, हाई सॉल्ट और हाई शुगर यानी बहुत ज्यादा फैट, नमक और चीनी वाली चीजें बच्चों को बिलकुल न खिलाएं। इसमें सभी तरह के पैकेज्ड और जंक फूड शामिल है। इसके अलावा एरेटेड ड्रिंक्स से भी बच्चों को दूर रखें।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Join Our Whatsapp Group