WhatsApp मैसेज से ऑटो कंपनी के उड़े 1 करोड़ रुपये, आप न करे ये गलतियां

नई दिल्ली

WhatsApp का इस्तेमाल आज काफी आम हो चला है। जितना आम इस्तेमाल है उतना ही आम WhatsApp पर चल रहे फ्रॉड हैं। इस महीने की शुरुआत में यह बताया गया था कि हैकर्स ने सीईओ अदार पूनावाला के रूप में एक WhatsApp मैसेज भेजा था। इस मैसेज के जरिए सीरम इंस्टीट्यूट को 1 करोड़ रुपये का चूना लगाया गया था। अब एक और लेटेस्ट रिपोर्ट सामने आई है जिसमें बताया गया है कि JBM Group नाम की एक ऑटोमोबाइल कंपनी को एक 1 करोड़ रुपये से ज्यादा का चूना लगाया है। इस कंपनी के मुख्य वित्तीय अधिकारी विवेक गुप्ता को कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट के नाम से फेक WhatsApp मैसेज भेजा गया था।

जानकारी के अनुसार, CFO ने साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन में उसी के बारे में एक एफआईआर दर्ज की है। बताया गया है कि इसमें फेक व्हाट्सएप मैसेज प्राप्त हुए हैं जिसमें फेक WhatsApp अकाउंट्स से इस तरह के मैसेजेज भेजे जा रहे हैं। अधिकारी ने बताया कि सात अलग-अलग बैंक अकाउंट्स में 1,11,71,696 रुपये के 8 ट्रांजेक्शन किए गए हैं।

इस तरह की घटनाएं काफी बढ़ गई हैं। अगर आप इस तरह की किसी भी घटना का शिकार नहीं होना चाहते हैं तो जानते हैं कि आप किस तरह से इस तरह की घटनाओं से सुरक्षित रह सकते हैं।

साइबर क्राइम से ऐसे रहें सुरक्षित:
    अगर आपको किसी अनजान नंबर से WhatsApp मैसेज प्राप्त होते हैं तो उन्हें क्रॉसचेक जरूर करें। इस तरह के मैसेज यह दावा करते हैं कि ये आपको जानते हैं या दिखाते हैं कि ये आपके कॉन्टैक्ट लिस्ट में हैं।
    मैसेज जहां से आ रहा है उस सोर्स को वेरिफाई जरूर करें। किसी क्यूआर कोड के सोर्स को पूरी तरह पुष्टि किए बिना उसे कभी भी स्कैन न करें।
    अपने बैंक अकाउंट का यूजर नेम या पासवर्ड डिटेल्स किसी के साथ शेयर न करें। कोई भी बैंक इस तरह की डिटेल्स नहीं मांगता है।
    अगर कोई लिंक आपको भेजता है तो उसे वेरिफाई किए बिना क्लिक न करें। इस तरह के लिंक्स आपके अकाउंट से पैसा निकालने का काम करते हैं।

Related Articles

Back to top button