5जी मोबाइल फोन पर कंपनियों ने लिया बड़ा फैसला

भारत में 5जी सर्विस को लॉन्च हुए करीब दो महीने का वक्त बीत चुका है। इसकी स्पीड को लेकर (ऊकला) ने पिछले दिनों एक डाटा जारी किया था, जिसमें जियो की सर्विस सबसे अच्छी बताई गई। यही नहीं, दिल्ली में जियो की सर्विस ने 600 एमबीपीएस की औसत स्पीड से डाउनलोड करके एक नया रिकॉर्ड भी कायम किया था। वहीं, अब इसकी सर्विस को लेकर नई जानकारी सामने आई है।

दरअसल, मोबाइल हैंडसेट निर्माता कंपनियों के प्रतिनिधि बुधवार, 12 अक्टूबर को केंद्र के कुछ वरिष्ठ अधिकारियों से मिले थे। इस मुलाकात में कंपनियों ने दस हजार रुपए से अधिक के 4जी फोन का उत्पादन कम करने का आश्वासन दिया है। कंपनियों के प्रतिनिधियों ने यह आश्वासन भी दिया है कि वे जल्द ही धीरे-धीरे 4जी मोबाइल फोन को 5जी मोबाइल फोन में शिफ्ट कर देंगे। इसमें दूर संचार मंत्रालय और इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इन्फरमेशन टेक्ननोलॉजी के अधिकारी और कंपनियों के प्रतिनिधि मौजूद थे।

13 शहरों में शुरू हो चुकी है सर्विस
बता दें कि भारत में जिन शहरों में 5जी सर्विस शुरू हो गई है, उनमें दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, मद्रास, अहमदाबाद, चंडीगढ़, दिल्ली, गांधीनगर, गुरुग्राम, हैदराबाद, जामनगर, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई और पुणे शहर शामिल हैं। यहां आज से ही 5जी नेटवर्क की कनेक्टिविटी की शुरुआत बीते 1 अक्टूबर से हो चुकी है। भारत में रिलायंस जियो, एयरटेल और वोडाफोन-आइडिया ने इस सर्विस को शुरू कर दिया है। अन्य शहरों में 5जी की सर्विस अगले कुछ वर्षों में चरणबद्ध तरीके से शुरू की जाएगी।

दस करोड़ यूजर्स के पास 5जी मोबाइल फोन अभी हैं
यही नहीं, अधिकारियों ने 5जी सर्विस नेटवर्क को  बढ़ाने के लिए तीन महीने का टाइमफ्रेम दिया है। कंपनियों ने सरकार को बताया कि दस हजार से अधिक बजट वाले कस्टमर्स को 5जी स्मार्टफोन  ही मिलेंगे। भारत में 75 करोड़ मोबाइल फोन यूजर्स है। इसमें दस करोड़ लोगो के पास 5जी इनबिल्ट फोन है, जबकि 35 करोड़ यूजर्स के पास 3जी या 4जी नेटवर्क पर काम करने वाले स्मार्टफोन हैं।

Related Articles

Back to top button