कैंसर का कारण बन सकते हैं खाना बनाने वाले तेल, देखें लिस्ट

कैंसर एक जानलेवा बीमारी है और यह इंसान को किसी भी तरह हो सकती है। कैंसर से हर साल लाखों लोगों की जान चली जाती है और इसकी शुरुआत ज्यादातर हमारे खान-पान से होती है।

कैंसर एक जानलेवा बीमारी है और यह इंसान को किसी भी तरह हो सकती है। कैंसर से हर साल लाखों लोगों की जान चली जाती है और इसकी शुरुआत ज्यादातर हमारे खान-पान से होती है। यह जानकर आपको हैरानी होगी कि खाने पीने की चीजों से भी कैंसर हो सकता है। कैंसर होने का एक कारण हमारे खाने में उपयोग होने वाला तेल भी हैं जिसके कारण कैंसर हो सकता है। आज हम आपको बता रहे हैं कि किन तेलों के खाने से कैंसर जैसी बीमारी आपको हो सकती हैं और इनसे आपको बचना चाहिए…

डाइट में शामिल करें ये सुपर ड्रिंक जल्द होगा weight loss

जानलेवा है ये तेल!

कई रिसर्चों से पता चला है कि सूरजमुखी, कॉर्न, कैनोला और बिनौला जैसे तेल पुरानी बीमारियों के प्रमुख कारण हैं। इतना ही नहीं ये विभिन्न प्रकार के कैंसर के अलावा हृदय रोग भी पैदा करते हैं।

क्यों हानिकारक होते है तेल

इनमें पॉलीअनसेचुरेटेड फैट पाया जाता है, जो गर्म करने पर एल्डिहाइड में टूट जाता है। यही कारण है कि तेल को गर्म करने पर उसमें से एक स्मेल आती है। तेल के निष्कर्षण के कारण उनका आॅक्सीकरण होता है और इसलिए वे विषाक्त और सूजन-उत्प्रेरण बन जाते हैं।

बढ़ता है ब्रेस्ट कैंसर का जोखिम

रिपोर्ट के मुताबिक ट्रांस फैट महिलाओं के स्तन कैंसर के जोखिम को ये दोगुना करने के लिए जिम्मेदार होता है। इतना ही नहीं कोलन और कई अन्य प्रकार के कैंसर के खतरे को भी बढ़ाता है। ये ट्रांस फैट वनस्पति तेल, कृत्रिम मक्खन और बेकरी के खाद्य पदार्थों में पाया जाता है।

ट्रांस फैट कैसे बनता है वेजिटेबल आॅयल

वेजिटेबल तेल हाइड्रोजनीकरण से गुजरते हैं। इससे ट्रांस फैट का निर्माण होता है। ट्रांस फैट हमारे शरीर के लिए बहुत नुकसानदायक है और ये यकृत, मधुमेह, मोटापा, जठरांत्र रोग और यहां तक कि कैंसर जैसे बीमारियों को भी बढ़ावा देता है।

Back to top button