जानिए क्या है नीतू कपूर के यंग दिखने का राज़

इस बात में तो कोई दो राय ही नहीं है कि अपने जमाने की टॉप अदाकारा रहीं नीतू कपूर के चेहरे का ग्लो, उनकी बहूरानी आलिया भट्ट तक को टक्कर देता सा लगता है। इसके पीछे की बड़ी वजह उनका अपनी मेंटल एंड इमोशनल हेल्थ का ख्याल रखने के साथ ही स्किन एंड डायट की केयर करना भी है। अपने डेली शेड्यूल से जुड़ी इन चीजों को लेकर रणबीर कपूर की मॉम ने एक इंटरव्यू में खुलकर बात की थी, जिसमें पता चला था कि कैसे आज तक उन्होंने अपने आप को इस तरह से मेनटेन किया हुआ है कि स्किन से लेकर फिटनेस तक के मामले में वह अपनी ही ऐज को मात दे जाती हैं।

वर्कआउट से लेकर डायट पर की थी बात

एचटी के साथ हुए एक इंटरव्यू में नीतू कपूर ने अपने वर्कआउट रूटीन से लेकर डायट और स्किन को लेकर सारे राज खोले थे। इसी में उन्होंने शेयर किया था कि कैसे बढ़ती उम्र के बावजूद उनकी बॉडी फिट और स्किन फ्लॉलेस नजर आती है, जो कई बार यंग एक्ट्रेसेस तक को मात दे जाती है।

जीन्स का होता है बड़ा रोल

टेंशन लेने की जगह नीतू कपूर खुश रहने में यकीन रखती हैं। उन्होंने जाहिर किया था 'आप अपने बालों और त्वचा के बारे में एक सीमा तक ही कुछ कर सकते हैं। इस सबमें मेन रोल जीन्स निभाते हैं। हालांकि, आप जो कर सकते हैं, वो है हमेशा खुश रहना। टच वुड, मैं कभी दुखी नहीं होती हूं।'

बालों में नहीं लगातीं तेल

आमतौर पर हेयर को हेल्दी रखने के लिए ऑइलिंग करने की सलाह दी जाती है, हालांकि, नीतू इसे फॉलो नहीं करतीं। 'मैंने कभी अपने बालों में तेल नहीं लगाया है। महीने में एक बार मैं कलर करवाने और कट के लिए अपने हेयरड्रेसर के पास जाती हूं। मुझे अगर किसी पार्टी में जाना हो, तो मैं अपना मेकअप भी खुद ही करती हूं।'

अंदर से ग्लो

स्किन ग्लो में वर्कआउट की भूमिका पर बात करते हुए मिसिस कपूर ने शेयर किया था 'कार्डियो आपकी ब्लड वेसल्स को खोलता है। इससे होने वाला स्मूद ब्लड फ्लो स्किन के ग्लो को बढ़ाता है। खुशी, अनुशासन, व्यायाम- ये तीनों ग्लोइंग लाइफ की चाबी हैं।' इसके साथ ही नीतू इस बात पर भी यकीन रखती हैं कि उम्र बस एक नंबर है। साथ ही में उन्होंने डॉक्टर से सलाह लेकर सही सप्लिमेंट्स को डायट में शामिल करने का भी सुझाव दिया था।

नीतू कपूर ने अपनी दिनभर की डायट भी शेयर की थी, जिसमें छाछ से लेकर घी, रोटी, फल जैसी चीजें शामिल रहती हैं।

    दिन में 12 बजे: तरबूज और एक ग्लास छाछ।
    दिन में 2 बजे: एक रोटी, दाल या चिकन या मछली, सूखी सब्जी।
    शाम के 4 बजे: 5 बादाम और 2 अखरोट।
    शाम के 6 बजे: 2 क्रीम क्रैकर।
    शाम के 8 बजे: एक ग्लास सब्जियों का जूस और फल।
    रात के 10 बजे: दाल के साथ एक रोटी या अंडा भुर्जी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button