बारिश का मौसम बालों को कर देता है फ्रिजी

 

महीनों तक गर्मी झेलने के बाद सभी लोग मॉनसून सीजन का बेसब्री से इंतजार करते हैं। हालांकि, हर मौसम की तरह ही ये सीजन भी स्किन और हेयर पर अलग तरह का असर दिखाता है। खासतौर से लड़कियों को इस वेदर में अपने बालों को संभालने में दिक्कत होती है। ऐसा इसलिए क्योंकि एक ओर तो उन्हें उमस के कारण होने वाला पसीना और चिपचिपाहट परेशान कर देते हैं, तो दूसरी ओर बाल सिल्की दिखने की जगह फ्रिजिनेस के कारण फूले-फूले और बिखरे हुए नजर आते हैं। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए डॉक्टर किरण सेठी ने आसान तरीके शेयर किए थे, जिन्हें अपनाने के लिए जेब पर ज्यादा बोझ भी नहीं बढ़ाना पड़ेगा।

क्यों होते हैं फ्रिजी हेयर?
शादीविश से बात करते हुए डॉक्टर किरण ने बताया कि बारिश के मौसम में बालों को फ्रिजी हो जाना बेहद आम बात है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बाल हवा में मौजूद मॉइस्चर को अपनी ओर खींचते हैं और उसे सोखना शुरू कर देते हैं। इससे आमतौर पर सीधे व स्मूद रहने वाले हेयर क्यूटिकल और आउटर लेयर फूलने लगते हैं व बाल फ्रिजी हो जाते हैं।

कैसे करें शैंपू?
किरण सेठी ने बताया कि बालों में कम मात्रा में शैंपू लगाएं। हेयर जब थोड़े से ड्राइ रहेंगे, तो स्कैल्प से नैचरल सीबम निकलेगा। इस तेल से बाल उतने रूखे नहीं दिखेंगे और साथ ही में ऑइल होने के कारण हेयर हवा से मॉइस्चर भी कम खींचेंगे। डॉक्टर ने बताया कि सप्ताह में करीब दो बार स्कैल्प वॉश जरूर करें।

एपल साइडर विनेगर
स्कैल्प को साफ रखने के लिए भी डॉक्टर किरण ने कुछ आसान उपाय बताए, जिनमें आपको शैंपू इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। उन्होंने बताया कि एपल साइडर विनेगर को पानी में मिलाकर बालों की जड़ों को जेंटली क्लीन किया जा सकता है। वहीं रोज के लिए सादे पानी से हेयर वॉश भी किया जा सकता है।

होममेड हेयर पैक
डॉक्टर किरण ने बताया कि घर पर हेयर पैक बनाने के लिए चारकोल, मुल्तानी मिट्टी और गुलाबजल का इस्तेमाल किया जा सकता है। ये पैक स्कैल्प के ऑइल को क्लीन करते हुए, डैंड्रफ को भी कम करेगा। इससे हेयर क्लीन दिखेंगे और फील होंगे। इसके साथ ही उन्होंने बालों पर हेयर प्रॉडक्ट्स के इस्तेमाल को कम करने की सलाह दी। इसकी जगह उन्होंने नारियल तेल की कुछ बूंदे बालों पर ऊपर से लगाने का सुझाव दिया।

Related Articles

Back to top button