​सूरन से होगी पेट की हर समस्या खत्म

बवासीर (Haemorrhoids ) की बीमारी के बारे में तो हम सब ने सुना है लेकिन जिसे ये होती है उसका उठना बैठना तक मुश्किल हो जाता है। बवासीर गुदा के आसपास या निचले मलाशय में होने वाली सूजन होता है। एक रिपोर्ट के अनुसार लगभग 50 प्रतिशत लोग 50 वर्ष की आयु तक बवासीर के लक्षणों का अनुभव करते हैं। अक्सर लोग इस बीमारी को बताने में शरमाते हैं। ऐसे में डॉक्टर के पास जाना ही न पड़े इसलिए हर कुछ नुस्खे इस्तेमाल कर लेते हैं। हम आपकी झिझक को समझते हैं इसलिए आज आपके लिए डॉक्टर का ही सुझाया बवासीर का रामबाण उपाय लेकर आएं हैं।

आयुर्वेद डॉक्टर ऐश्वर्या संतोष ने बवासीर के लिए एक बेहद ही असरदार सब्जी के बारे में अपने इंस्टाग्राम पर जानकारी शेयर की है। उन्होंने बताया है कि सूरन (Elephant foot yam) का छांछ के साथ सेवन बवासीर की समस्या में बहुत कारगर होता है। इतना ही नहीं इसे खाने से पेट संबंधित कई सारी परेशानियों से आपका पीछा छुट सकता है।

बवासीर में सूरन के चमत्कारी फायदे

​क्या है ये बवासीर

यह एक ऐसी बीमारी है जिसमें एनस के अंदर और बाहरी हिस्से की शिराओं में सूजन आ जाती है। इसकी वजह से गुदा के अंदरूनी या बाहर के हिस्से में कुछ मांस जमा हो जाता है। इसमें से खून निकलने के साथ ही दर्द भी बहुत होता है। ये परेशानी आम तौर पर ज्यादा गरम और मसालेदार खाना खाने से हो जाता है। इसके साथ ही अगर परिवार में किसी को ऐसी समस्या रही है तो आगे की जेनरेशन में ये समस्या ट्रांसफर होती जाती ह

​बवासीर के लक्षण

    मल त्याग के समय असामान्य दर्द या जलन होना।
    मल के साथ खून आना।
    एनस के आसपास सूजन या गांठ होना।
    एनस के पास खुजली होना।
    मस्सों से खून आना।

​सूरन से होगी पेट की हर समस्या खत्म

डॉक्टर ऐश्वर्या ने बताया की बवासीर में सूरन खाना बहुत फायदेमंद होता है। इसके साथ ही सूरन कब्ज, पेट का दर्द, कृमि संक्रमण और पाचन संबंधित परेशानियों में भी राहत दिलाने का काम करता है।

​ऐसे करें इस्तेमाल

    एक सूरन को धूप में अच्छा तरह सूखा लें।
    इसे कूटकर या पीसकर पाउडर बना लें।
    सूरन के पाउडर 5ग्राम लें और इसे छांछ में मिलाकर रोज इसका सेवन करें।

​पेट के लिए सूरन क्यों है चमत्कारी

सूरन में कैलोरी, वसा, कार्बोहाइडेट, प्रोटीन, पोटीशियम और फाइबर के साथ विटामिन B6, विटामिन B1, राइबोफ्लेविन, फोलिक एसिड, नियासिन, विटामिन ए और बीटा केरोटीन भी पाया जाता है, जो शरीर को कई तरह की बीमारियों से बचाता है।

 

Related Articles

Back to top button