यह है सही तरीका दही खाने का , जाने

दही (curd) को आमतौर पर सभी लोग पंसद करते हैं। खाने के साथ दही का रायता ज्यादातर लोगों के घरों में रोज ही बन जाता है। इसमें मौजूद पोषक तत्वों के वजह से दही को सुपरफूड भी कहा जाता है। दही पोषक तत्व से भरपूर है। यह प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, विटामिन बी -12, लिनोलिक एसिड और अन्य प्रमुख फैटी एसिड का एक अच्छा स्रोत है। वैसे तो दही सभी मौसम में मिलता है लेकिन जब मौसम गर्मी की हो तो घरों में सिर्फ रायता ही नहीं सुबह शाम लस्सी का प्रोग्राम भी बन जाता है। इसे खूबसूरत त्वचा, चमकदार और डैंड्रफ फ्री बालों के लिए भी घरेलू नुस्खे के रूप में इस्तेमाल किया जाता है।

दही को अक्सर हम अपनी इच्छानुसार किसी भी दूसरे खाद्य पदार्थों के साथ मिलाकर खा लेते हैं। ऐसा करना सेहत के लिए नुकसानदेह हो सकता है। आयुर्वेद में दही को खाने के कुछ हेल्दी तरीके और समय बताए गए हैं। आइए जानते हैं इसे लेकर आयुर्वेद डॉक्टर क्या कहते हैं-

आयुर्वेद डॉक्टर अलका विजयन बताती हैं कि आमतौर पर दही चावल को लोग कब्ज की परेशानी के लिए रामबाण मानते हैं लेकिन इसे रोज नहीं खाना चाहिए। चार दिनों में एक बार इसका सेवन आपकी सेहत के लिए फायदेमंद होता है। वह बताती हैं कि कोई भी gut friendly प्रोबायोटिक फूड सही तरीके, समय और मात्रा में न खाया जाए तो हानिकारक हो सकता है।

​क्या रात में दही खाना चाहिए?

डॉक्टर अलका बताती के अनुसार दही को रात में नहीं खाना चाहिए। दही में काल विरोधी तत्व मौजूद होते हैं। रात के समय दही खाने से शरीर में ज्यादा मात्रा में बलगम बनने लगता है जिसके वजह से छाती में संक्रमण और स्किन संबंधी परेशानियों का खतरा बढ़ जाता ह

​दही के साथ चिकन खाने से बचें

नॉनवेज खाने के शौकिन है तो यह गलती भी जरूर कर रहे हैं आप। चिकन हो या चिकन बिरयानी इसके साथ रायता का स्वाद आपकी तबीयत बिगाड़ सकता है। अगर आप इस गलती को कर रहें तो किसी भी समय आपका शरीर सोरायसिस, गठिया और फोड़े जैसी समस्याओं के चपेट में आ सकता ह

​दूध के साथ दही भूलकर भी न करें ये गलती

हालांकि दूध से ही दही को बनाया जाता है लेकिन इन्हें साथ में खाना से सेहत पर विपरीत प्रभाव पड़ता है। क्योंकि इसकी तासीर एक दूसरे से बिल्कुल ही अलग होती है। अगर आप दोनों का साथ में या तुरंत बाद करते हैं तो सावधान हो जाइए इससे पेट खराब होने के साथ ही ज्वाइंट्स में दर्द के साथ जलन वाले घाव हो सकते हैं।

​दही और फ्रूट स्मूदी

यूट्यूब पर देखकर अलग-अलग रेसिपी ट्राई करने के चक्कर में कभी भी दही और फ्रूट स्मूदी को साथ में खाने की भूल न करें। यह आपके चेहरे पर पिलपिले छालों के साथ छाती में संक्रमण का कारण बन सकते हैं।

​दही को रोज खाना फायदेमंद है या नहीं?

आयुर्वेद विशेषज्ञ के अनुसार दही में भले ही बहुत सारे पोष्टिक तत्व मौजूद हैं लेकिन इसका रोज सेवन करना सेहत के लिए फायदेमंद नहीं होता है। इसकी वजह बताते हुए वह कहती हैं कि यह काफी भारी प्रकृति का होने के साथ खमीरयुक्त होता है। ऐसे लोग जिन्हे लैक्टोज से एलर्जी होती है उनके लिए रोज दही का सेवन परेशानी का कारण हो सकता है।

​ऐसे करें रोज दही का सेवन

आयुर्वेद विशेषज्ञ कहती हैं कि क्योंकि दही में अच्छे बैक्टीरिया होते हैं जो पाचन तंत्र को प्रभावपूर्ण तरीके से काम करने में मदद करते हैं। इसलिए इसका रोज सेवन करना पाचन के लिए अच्छा होता है। लेकिन ध्यान रखें कि दही को छाछ के रूप में खाने के साथ लें।

Related Articles

Back to top button