थाने में आरोपी के हमले से घायल प्रधान आरक्षक की मौत

भिंड
जिले के ऊमरी थाना भवन में रविवार को देर शाम बदमाशों ने लोहे के धारदार हथियार से पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया था, जिससे दो पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए थे इनमे से उपचार के लिए दिल्ली रैफर किये गए प्रधान आरक्षक उमेश बाबू की उपचार के दौरान दिल्ली में ही मौत हो गई है।

दरअसल पुलिसकर्मियों पर हमले की यह वारदात थाने में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गयी थी, घायल पुलिसकर्मियों में से हेड कॉन्स्टेबल उमेश बाबू की हालत ज्यादा गंभीर होने के चलते उसे जिला चिकित्सालय से ग्वालियर रेफर कर दिया गया, जहां से सुबह के समय उसे दिल्ली रेफर किया गया था, जबकि एक आरक्षक का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। दरअसल रविवार देर शाम को पुलिस द्वारा एक युवक विष्णु राजावत को हिरासत में लिया गया था जिसको बिना लॉकअप में डाले ही थाने में बिठा लिया गया। जिसके बाद युवक का एक और साथी आया और दोनों में बातचीत के बाद उसने भागने के लिए पास ही रखी कुदाली से पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया था, हमलावर युवक का कहना था किउसे बिना किसी कारण के उठाया गया था जिसके चलते वह पुलिस वालों से जाने देने के लिए बोल रहा था। लेकिन पुलिसकर्मियों द्वारा उसे नहीं छोड़ा गया। जिसके चलते उसने पास में रखी कुदाली से पुलिसवालों पर हमला कर दिया। और भागने की कोशिश की,

उमरी थाने में पदस्थ प्रधान आरक्षक उमेश बाबू की मौत की खबर से पूरे पुलिस महकमे सहित जिले भर में सनसनी फैल गई है क्योंकि इस घटना का वीडियो जो वायरल हुआ था वह भी काफी हृदयविदारक और विचलित करने वाला है अब उमेश बाबू को सब को दिल्ली से अपने गृह निवास भिंड लाया जा रहा है उनका शव शाम तक भिंड पहुंच सकेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button