मुख्यमंत्री ने 282.95 करोड़ रूपए की सिंचाई योजना का किया भूमि-पूजन

भोपाल 
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने खण्डवा के पुनासा स्थित स्टेडियम ग्राउंड पर 283 करोड़ रूपए की लागत की 5 माइक्रो उद्वहन सिंचाई परियोजनाओं का भूमि-पूजन किया। साथ ही मुख्यमंत्री ने 170 करोड़ की लागत से बने 80 कि.मी. लंबे पुनासा-कन्नौद मार्ग का लोकार्पण भी किया। उन्होंने हायर सेकेंडरी स्कूल बांगरदा एवं पुनासा का भी भूमि-पूजन किया।

नर्मदा घाटी की नहर सिंचाई से वंचित अंचलों तक नर्मदा जल ले जाने की नवाचारी पहल में खंडवा जिले की पुनासा तहसील को 7195 हेक्टेयर माइक्रो सिंचाई का लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पुनासा में किल्लोद, भुरलाय, पामाखेड़ी, कोदवार तथा पुनासा विस्तार माइक्रो उद्वहन सिंचाई योजना समूह का भूमि-पूजन किया। इन समूह योजनाओं में किल्लोद योजना के लिए ग्राम अंबाखाल के निकट इंदिरा सागर जलाशय से 3.56 घन मीटर प्रति सेकंड क्षमता से 45 मीटर ऊँचाई तक जल उद्वहन किया जाएगा।भुरलाय योजना के लिए ग्राम हनुवंतिया के निकट इंदिरा सागर जलाशय से 0.53 घन मीटर प्रति सेकंड क्षमता से 42 मीटर ऊँचाई तक जल उद्वहन किया जाएगा। पामाखेड़ी योजना के लिए ग्राम डांग के निकट इंदिरा सागर जलाशय से 0.38 घन मीटर प्रति सेकंड क्षमता से 34 मीटर ऊँचाई तक जल उद्वहन किया जाएगा। कोदवार योजना के लिए इंदिरा सागर परियोजना की मुख्य नहर आरडी 13 कि.मी. से 1.30 घन मीटर प्रति सेकंड क्षमता से 2 स्टेज में 73 मीटर ऊँचाई तक जल उद्वहन किया जाएगा।

कार्यक्रम में सांसद श्री नंद कुमार सिंह चौहान और श्री सुभाष पटेल सहित विधायक श्री लोकेंद्र सिंह तोमर उपस्थित रहे।

पूरी तरह पाइप लाइन आधारित होगी माइक्रो सिंचाई योजना

पुनासा विस्तार योजना के लिए ग्राम चांदेल के निकट पुनासा उद्वहन योजना जलाशय नं.-1 से 0.35 घन मीटर प्रति सेकंड क्षमता से 26 मीटर ऊँचाई तक जल उद्वहन किया जाएगा। इन योजनाओं की जल वितरण प्रणाली पूरी तरह पाइप लाइन आधारित होगी। योजना की विशेषता यह है कि भूमिगत पाइप लाइन द्वारा किसान को हर ढाई हेक्टेयर रकबे तक 20 मीटर दाबयुक्त जल मिलेगा। इससे किसान फौव्वारा या ड्रिप पद्धति से सिंचाई का लाभ ले सकेगा। इस समूह योजना से पुनासा तहसील के 32 गाँवों के 7 हजार 195 हेक्टेयर क्षेत्र को सिंचाई का लाभ मिलेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button