300 विद्यार्थियों ने यूजी – पीजी में प्रवेश लेने के बाद निकलवा ली टीसी

भोपाल
उच्च शिक्षा विभाग आगामी सत्र 2022-23 में प्रवेश कराने के लिये काउंसलिंग खत्म कर चुका है। अब सीएलसी चल रही है। सीएलसी शुरू हो चुकी है।

यूजी और पीजी में प्रवेश लेने के बाद करीब 300 विद्यार्थियों ने अपने प्रवेश को निरस्त कराकर टीसी तक निकलवा ली है। इसकी वजह विद्यार्थियों को कॉलेज रास नहीं आना है। यूजी और पीजी में प्रवेश को लेकर काफी स्थिति खराब बनी हुई है। विभाग जहां प्रवेश कराने पर जोर दे रहा है। वहीं विद्यार्थी प्रवेश होने के बाद निरस्त कराने में लगे हुये हैं।

इसकी वजह विद्यार्थियों ने प्रवेश लेने के बाद अपनी 12वीं  की टीसी के साथ फीस तक जमा कर दी। इसके बाद उन्होंने कालेजों में प्रवेश निरस्त कराने के आवेदन तक जमा कर दिये हैं। अभी तक यूजी और पीजी में करीब 300 विद्यार्थी प्रवेश लेने के बद अपनी टीसी निकलवा चुके हैं। अब वे दूसरे कालेजों में प्रवेश लेने की  व्यवस्था में लग गये हैं।

एक हजार आवेदन  कतार में
सीएलसी के प्रथम राउंड में प्रवेश लेने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। वहीं दूसरी सीएलसी के लिये पंजीयन भी शुरू कर दिये गये हैं। इसके बाद भी पहली काउंसलिंग में प्रवेश लेने वाले करीब एक हजार विद्यार्थियों ने प्रवेश निरस्त कराकर टीसी लेने के लिये आवेदन किये हैं। जबकि प्राचार्य उन्हें प्रवेश बनाये रखने की कवायद में लगे हुये हैं। प्रवेश निरस्त होने के बाद विद्यार्थियों के पास प्रवेश के और भी रास्ते खुले हुये हैं।

छात्रों के सौ रुपए हुए कट
प्रवेश प्रक्रिया पर विराम लगने के 15 दिनों तक विद्यार्थी प्रवेश निरस्त कराता है, तो उसे प्रवेश निरस्त कराने का कारण बताते हुये आवेदन देना होगा। इसके बाद प्राचार्य 100 रुपए का शुल्क लेने के बाद शेष फीस विद्यार्थी को वापस कर चुके हैं। अब विद्यार्थी दोबारा से प्रवेश लेने के लिये नये सिरे से पंजीयन कराकर सीएलसी में भागीदारी कर सकेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button