33 मर्डर: सीरियल किलर ने बताया, ‘मुझे अपने पिता से कभी प्यार नहीं मिला, इसलिए बना हत्यारा’

 भोपाल 
महाराष्ट्र से लेकर छत्तीसगढ़ तक के अलग-अलग जिलों में 33 हत्याओं को अंजाम देने वाले मध्य प्रदेश के सीरियल किलर आदेश कामरा ने पुलिस के सामने बेहद भावुक बयान देकर सबको हैरान कर दिया है। उसने बताया है कि उसे अपने पिता से कभी प्यार नहीं मिला, इसलिए वह ऐसा बन गया। बता दें कि पेशे से दर्जी कामरा पर 33 ट्रक ड्राइवरों की हत्या का आरोप है।  
 

कामरा ने लोढा राहुल कुमार (एसपी-साउथ) को बताया, 'कोई मेरा ध्यान नहीं रखता था। मैं इंट्रोवर्ट हो गया। मेरे अंदर तक इतना गुस्सा था कि मुझे पता ही नहीं चला कि कब मैं हिंसक आदमी बन गया।' हालांकि, पुलिस उसके बयान की मार्मिकता में नहीं फंस रही। पूछताछ के दौरान उसके शातिर होने के बारे में समझ में आया है। वह मारने से पहले अपने शिकार से दोस्ती करता था। 

 बेहद शातिर है आदेश' 

आरोपी ने जो पुलिस को बताया, उसके मुताबिक, उसके पिता गुलाब कामरा सेना में नायब सूबेदार थे। वह परेड ग्राउंड सा अनुशासन घर में भी लाते थे। लोढा ने बताया, 'उसने कहा कि उसके पिता उसके बचपन में बेहद कठोर थे। वह आदेश को मारते थे और छोटी-छोटी बातों के लिए घर से निकाल देते थे।' लोढा ने बताया कि कोल्ड-बल्डेड किलर खुद बचपन में ट्रॉमा का शिकार है। हो सकता है कि तभी उसने हिंसक प्रवृत्ति अपना ली जिसने उससे बिना पछतावे के मर्डर कराए। 

हालांकि, पुलिसवालों का कहना है कि आदेश बेहद शातिर है और उसके सारे बयान को क्रॉस चेक किया जा रहा है। पुलिस ने अब पाया है कि उसका आपराधिक इतिहास 2005-06 तक जाता है जब उसने रंगदारी लेनी शुरू की थी। अभी तक माना जा रहा था कि 2010 में उसने अपराध शुरू किए। 

 कहां, कितने कत्ल:- 

राघोगढ़, MP- 1 
सियोनी, MP- 2 
अमरावती, महाराष्ट्र- 2 
सुकेत नाला टोल, MP- 3 
संगमनेर जंगल, शिरडी- 1 
वर्धा, महाराष्ट्र- 2 
राजनंदगांव, छत्तीसगढ़- 3 
संभलपुर, ओडिशा- 2 
बारखेड़ा, MP- 1 
चंदेरी, MP- 11 
पठारिया, MP- 2 
रायपुर, छत्तीसगढ़- 2 
बिलखिरिया, MP- 1 
 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button