गड़बड़ी करने वालों के साथ प्रशासन सख्ती से निपटेगा – पुलिस अधीक्षक

मुरैना
त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन 2022 के द्वितीय चरण की पॉलिंग पार्टियों को रवाना करते समय कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री बक्की कार्तिकेयन ने क्लस्टर स्तर पर नियुक्त राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों को कड़े निर्देश दिये है कि अपने विवेक और मौके की नजाकत को देखते हुये चुनाव स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण सम्पन्न करायें, ऐसी मेरी सभी से उम्मीद है। यह निर्देश उन्होंने पॉलीटेक्निक कॉलेज बड़ोखर मुरैना पर मतदान दलों को सामग्री वितरण करते समय सेक्टर और क्लस्टर स्तर के अधिकारियों को दिये। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष बागरी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री राय सिंह नरवरिया, अपर कलेक्टर श्री नरोत्तम भार्गव, नगर निगम कमिश्नर श्री संजीव कुमार जैन, एसडीएम मुरैना श्री शिवलाल शाक्य, एसडीओपी श्री अतुल सिंह, तहसीलदार, बानमौर एसडीओपी श्रीमती दीपाली चंदोरिया सहित बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा।

कलेक्टर श्री बी.कार्तिकेयन ने अधिकारियों को दो-टूक शब्दों में कहा कि चुनाव सम्पन्न कराना मेरे लिये प्राथमिकता है, चुनाव में किसी भी प्रकार की हिंसा नहीं होनी चाहिये। इसके लिये दो या तीन पंचायत स्तर पर सेक्टर ऑफीसर लगाये गये है। इनके साथ में पुलिस बल भी पर्याप्त दिया गया है। चुनाव शान्तिपूर्ण कराना मेरी प्राथमिकता में है। उन्होंने कहा कि अपराधी बचना नहीं चाहिये, इसके लिये पूरी तैयारी के साथ क्लस्टर, हेलमेट के अलावा बल्वाड्रेस गाड़ियों में उपलब्ध रहे। उन्होंने कहा कि प्रत्येक अधिकारी पुलिस एवं राजस्व 2 बजे के बाद मुझे फील्ड में बिना हेलमेट के नहीं मिलना चाहिये। हेलमेट नहीं पहना तो, अक्षम अपराध की श्रेणी में माने जाओगे। कलेक्टर ने कहा कि क्लस्टर स्तर पर राजस्व एवं पुलिस अधिकारी कॉर्डिनेशन के साथ मतदान केन्द्रों पर भ्रमण करेंगे। दोंनो अधिकारी साथ-साथ में रहेंगे, अधीनस्थों से लोकेशन लेते रहेंगे, किसी भी मतदान केन्द्रों पर कोई भी घटना घटित होती है तो विधिन 5 से 7 मिनिट में पहुंचना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि अफवाहों से सावधान रहें, जिम्मेदार अधिकारियों, कर्मचारियों के सम्पर्क में रहे। कलेक्टर ने कहा कि मतदान समाप्ति के तुरंत बाद पोलिंग पार्टियों को सुरक्षित लाना सभी का दायित्व है।

पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष बागरी ने कहा कि द्वितीय चरण के चुनाव में क्लस्टर स्तर पर जो अधिकारी लगाये गये है, उनको 2 या 3 पंचायतें दी गई है। जिनमें 8 से 10 मतदान केन्द्रों का निरीक्षण रहेगा। 8 से 10 मतदान केन्द्रों पर आज से ही भ्रमण कर लें और मतदाताओं को प्रातः मतदान करने के प्रेरित करें। उन्हें सूचना देते रहें कि मतदान अपरान्ह 3 बजे तक है। इसके बाद कोई भी व्यक्ति मतदान के लिये मतदान केन्द्रों पर नहीं आये। उन्होंने कहा कि मतदान की परिधि में मतदाता के अलावा एक भी व्यक्ति दिखना नहीं चाहिये। सूचना मिलने पर क्लस्टर पर 25 से 30 जवानों का फोर्स दिया जा रहा है। लगभग 5 से 6 वाहन उपलब्ध रहेंगे, कहीं से भी किसी भी प्रकार की घटना की सूचना मिलती है तो तत्काल स्थिति को कंट्रॉल में करें। फुल ड्रेस, ब्लवाड्रेस जिस अधिकारी के पास नहीं मिलेगी, उस अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। गड़बड़ी करने वालों के साथ प्रशासन सख्ती से निपटेगा। जिसका उदाहरण पिछले चुनाव में देख चुके है। उन्होंने कहा कि प्रति दो घंटे में पॉलिंग का प्रतिशत सेक्टर अधिकारियों को मोबाइल पर प्राप्त होगा, जिस मतदान केन्द्र पर ऐसा लगे कि यहां मतदान कम हुआ है, वहां सचिव, जीआरएस को तत्काल प्रेरित करें। 2 बजे के बाद सभी अधिकारी मतदान केन्द्रों पर अर्ल्ट मोड में रहें। मुरैना विकासखण्ड में 48 क्लस्टर लगाये गये है। पूरे विवेक और लगन के साथ मतदान सम्पन्न करायें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button