बारात का वाहन नहर में गिरा पांच डूबे, चार को बचाया, एक लापता

खरगोन

खंडवा के पुनासा से दूल्हे के साथ बारात लेकर सनावद क्षेत्र के हीरापुर पहुंचे बरातियों का वाहन बेडिय़ा के नजदीक गोराडिय़ा में पुनासा परियोजना की मुख्य नहर में जा गिरा। यह हादसा रविवार रात करीब 8 बजे हुआ। वाहन में पांच लोग सवार थे। पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से चार लोगों को रेस्क्यू कर बाहर निकाला जबकि 12 घंटे बाद सोमवार सुबह 9 बजे तक भी नाबालिग का कोई पता नहीं चला। सर्चिंग अब भी जारी है।

बेडिय़ा थाने से मिली जानकारी के अनुसार रविवार को पुनासा की बारात हीरापुर के पहुंची थी। देर रात बराती वापस लौट रहे थे। बराती दो वाहनों में सवार हो कर जा रहे थे। रात करीब 8 बजे ग्राम गोराडिय़ा के निकट एक बेलोरो वाहन का संतुलन बिगड़ा और वह पुनासा परियोजना की मुख्य नहर में जा गिरा। वाहन में सवार पुनासा निवासी सुंदरम पिता गंगाराम (19), हरिओम पिता कैलाश (20), संतोष पिता जालम (36), अरविंद पिता छगन (20) और राम पिता सुरेश (15) शामिल थे।

वाहन के नहर में गिरने की सूचना के बाद बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंचे। पुलिस के आला अफसर भी नहर पर गए। इसके बाद रेस्क्यू शुरू किया गया। नहर से बाहर निकाले लागों में संतोष की हालत गंभीर है। उसे जिला अस्पताल रेफर किया है। यहां इलाज चल रहा है।

रेस्क्यू में नहीं मिला नाबालिग
वाहन के नहर में गिरने के बाद क्षेत्र में हड़कंप मंच गया। बरातियों की खुशियां भी गम में बदल गई। ताबड़तोड़ बेडिया थाने पर इसकी सूचना दी गई। मौके पर पहुुंची पुलिस ने ग्रामीणों के साथ मिलकर आनन-फानन में रेस्क्यू शुरू किया। बचाव कार्य के दौरान वाहन के साथ नहर में गिरे सुंदरम, हरिओम, संतोष और अरविंद को बाहर निकाल लिया गया। 15 वर्षीय राम अब भी लापता है। पुलिस ने बताया घायल संतोष की हालत नाजूक है। उसे खरगोन जिला अस्पताल रेफर किया गया है। सूचना पर तत्काल एसडीएम अनुकूल जैन, एसडीओपी विनोद दीक्षित दल सहित मौके पर पहुंचे।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button