सांगली में कर्ज में डूबे डॉक्टर परिवार के 9 सदस्यों ने की सामूहिक खुदकुशी

  सांगली

महाराष्ट्र के सांगली में कर्ज के बोझ तले दबकर एक ही परिवार के 9 लोगों ने खुदकुशी कर ली. इस घटना से इलाके में हर कोई हैरान है. डॉक्टर फैमिली के इन सभी लोगों ने जहर पीकर दो अलग-अलग घरों में मौत को गले लगा लिया. पुलिस को सांगली के अंबिका नगर और राजधानी कॉर्नर के घर से इन लोगों की लाश मिली.

शुरुआती जांच में पुलिस को पता चला है कि डॉक्टर परिवार बुरी तरह कर्ज के जाल में फंसा हुआ था. रिपोर्ट के मुताबिक कर्ज के बोझ से ही तंग होकर सभी ने सामूहिक आत्महत्या कर ली. यह घटना सोमवार (20 जून) को हुई है. डॉक्टर दंपत्ति के एक घर से छह शव तो दूसरे घर से तीन शव बरामद किए गए हैं.

सोमवार की सुबह जब डॉक्टर दंपत्ति परिवार के घर का दरवाजा नहीं खुला तो पड़ोसी घर के पास पहुंचे और दरवाजा खोलकर देखा.

पड़ोसियों ने घर के अंदर 6 शवों को देखा जिसके बाद दूसरे घर में भी 3 शव पाए गए. पड़ोसियों ने फौरन इसकी सूचना पुलिस को दी जिसके बाद मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने जांच की और बताया कि शुरुआती तौर पर यह खुदकुशी का मामला लग रहा है.

   परिवार ने की खुदकुशी

पुलिस के मुताबिक डॉक्टर दंपत्ति परिवार ने जहर पी कर खुदकुशी की है. जिन लोगों ने आत्महत्या की है उनके नाम पोपट यल्लाप्पा वनमोरे (उम्र- 52 साल), संगीता पोपट वनमोरे ( उम्र – 48 साल), अर्चना पोपट वनमोरे (उम्र-30 साल), शुभम पोपट वनमोरे (उम्र – 28 साल), माणिक यल्लाप्पा वनमोरे (उम्र 49 साल), रेखा माणिक वनमोरे (उम्र – 45 साल), अनिता माणिक वनमोरे (उम्र – 28 साल), अक्काताई वनमोरे (उम्र- 72 साल) और आदित्य माणिक वनमोरे हैं.

हैरानी की बात ये है कि परिवार के साथ खुदकुशी करने वाले में एक 15 साल का नाबालिग भी शामिल है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button