अग्निपथ के खिलाफ हिंसा में अब तक 922 गिरफ्तार, 600 से अधिक ट्रेनें रद्द

नई दिल्ली

अग्निपथ योजना के विरोध में राज्य में हुई हिंसा, तोड़फोड़ और आगजनी में अबतक 922 अराजक तत्वों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस मुख्यालय के मुताबिक हिंसा में शामिल रहे अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए लगातार कार्रवाई की जा रही है। मुख्यालय के मुताबिक अग्निपथ योजना के खिलाफ 16 जून से राज्य में हुई घटनाओं को लेकर अबतक कुल 161 प्राथमिकी दर्ज की गई है। प्राथमिकी व अप्राथमिकी अभियुक्तों को गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। वहीं, अग्निपथ योजना पर विरोध-प्रदर्शन की वजह से सोमवार को 612 ट्रेनों का परिचालन प्रभावित रहा। कुल 602 रेलगाड़ियां रद्द करनी पड़ीं। इनमें 223 मेल-एक्सप्रेस और 379 स्थानीय ट्रेन शामिल हैं। रेलवे ने बताया कि दिल्ली-हावड़ा रूट सर्वाधिक प्रभावित रहा। यात्री ट्रेनें रद्द होने से दैनिक यात्रियों, व्यापारियों, नौकरीपेशा लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।
 
अग्निपथ योजना के विरोध के कारण 602 ट्रेनें रद्द
अग्निपथ योजना पर विरोध-प्रदर्शन की वजह से सोमवार को 612 ट्रेनों का परिचालन प्रभावित रहा। कुल 602 रेलगाड़ियां रद्द करनी पड़ीं। इनमें 223 मेल-एक्सप्रेस और 379 स्थानीय ट्रेन शामिल हैं। रेलवे ने बताया कि दिल्ली-हावड़ा रूट सर्वाधिक प्रभावित रहा। यात्री ट्रेनें रद्द होने से दैनिक यात्रियों, व्यापारियों, नौकरीपेशा लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। अधिकारियों ने बताया कि लंबी दूरी की श्रमजीवी एक्सप्रेस, संपूर्ण क्रांति, बिहार संपर्क क्रांति आदि ट्रेनें प्रभावित हुई हैं। राजधानी-शताब्दी, तेजस एक्सप्रेस प्रीमियम ट्रेनें चलाई जा रही हैं। बिहार में हिंसा और आगजनी के बाद से सुबह चार बजे से रात आठ बजे तक ट्रेनों का परिचानल बंद है। जो ट्रेन रात में चल रही हैं उन्हें पहुंचने में देरी हो रही है। विरोध का सबसे अधिक असर लोकल ट्रेन और यात्री ट्रेनों पर पड़ा है क्योंकि रद्द होने वाली रेलगाड़ियों में 379 यात्री ट्रेनें हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button