रामायण के इस्लामीकरण करने का आदिपुरुष पर लगा आरोप, निर्देशक को कानूनी नोटिस जारी

नई दिल्ली
रामायण पर आधारित आदिपुरुष फिल्म के निर्देशक ओम राउत को सर्व ब्राह्मण महासभा की ओर से गुरुवार को एक नोटिस जारी किया गया है। इस नोटिस में लिखा गया है कि 7 दिनों के अंदर विवादित दृश्य या तो हटा दिए जाएं, अन्यथा कानूनी कार्रवाई के लिए तैयार रहें।

आदिपुरुष के निर्देशक को नोटिस सर्व ब्राह्मण महासभा की ओर से भेजा गया है
सर्व ब्राह्मण महासभा की ओर से वकील ने यह नोटिस भेजा है। इसमें लिखा गया है, 'फिल्म आदिपुरुष में हिंदू देवी-देवताओं का गलत चित्रण दिखाया गया है। इसमें उन्हें चमड़े के कपड़े पहनाए गए हैं, जो कि गलत है। वहीं, बहुत ही निचले स्तर की भाषा का उपयोग किया गया है, जिसके चलते धार्मिक भावनाएं आहत होती है। इससे जातिसूचक और धर्म सूचक शब्दों का भी प्रयोग किया गया है। वहीं, आदिपुरुष में भगवान हनुमान को मुगल के तौर पर दिखाया गया है।'

'आदिपुरुष रामायण का इस्लामीकरण करती है'
नोटिस में आगे कहा गया है, 'कौन से हिंदू देवी-देवता दाढ़ी रखते हैं, वह भी बिना मूंछों के। हनुमान जी को इस प्रकार दिखाया गया है। फिल्म आदिपुरुष पूरी तरह से भगवान श्रीराम, माता सीता और हनुमान जी के रामायण का इस्लामीकरण करती है। फिल्म में रावण की भूमिका निभाने वाले सैफ अली खान तैमूर खिलजी के रूप में नजर आ रहे हैं। यह फिल्म देश में नफरत लाएगी, जो कि समाज और देश के लिए काफी घातक है।'

आदिपुरुष को रामायण और रामचरितमानस के आधार पर ही बनाएं
नोटिस में यह भी लिखा गया है, 'क्या आप यह फिल्म इसलिए बना रहे हैं, ताकि आप हिंदुओं की भावनाओं को आहत करें। इस फिल्म को रामायण और रामचरितमानस के आधार पर ही बनाएं। इसी कारण हम आपको यह कानूनी नोटिस भेज रहे हैं। आप सार्वजनिक तौर पर माफी मांगिये, अन्यथा 7 दिनों के बाद आपके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।' अभी तक निर्देशक ने इस पर प्रतिक्रिया नहीं दी है।

Related Articles

Back to top button