BJP नेता के रिजॉर्ट में सबूत मिटाने की कोशिश? अंकिता के भाई ने बुलडोजर एक्शन पर उठाया सवाल

देहरादून
अंकिता भंडारी हत्याकांड में बीजेपी नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य के रिजॉर्ट अनंतरा पर शुक्रवार रात को ही बुलडोजर चलाने पर सवाल खड़े हो गए हैं। अंकिता के भाई अजय भंडारी ने बुलडोजर एक्शन पर सवाल उठाते हुए आरोप लगाया है कि रिजॉर्ट में सबूत मिटाने का बुलडोजर चलाया गया है।

भाई का सवाल है कि रिजॉर्ट पर बुलडोजर चलाने का फैसला आखिरकार किसने इतनी जल्दी लिया और क्यों लिया? कहा कि रिजॉर्ट में आने वालों की जांच होनी चाहिए। भाई के यह भी आरोप लगाए हैं कि चीला पावर हाउस की शक्ति नहर में अंकिता को फेंकने से पहले उसके साथ मारपीट की गई है।

अंकिता हत्याकांड में लगातार दूसरे दिन भी लोगों में उबाल है। पोस्टमार्टम के बाद श्रीनगर पहुंची अंकिता के शव का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया। परिजनाें की मांग है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद ही अंकिता का अंतिम संस्कार किया जाएगा। प्रदर्शनकारियों ने बदरीनाथ हाईवे पर जाम लगा दिया है।

पूर्व सीएम हरीश रावत और  महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष ज्योति रौतेला ने भी रिजॉर्ट पर बुलडोजर चलाने को गलत माना। इससे सबूत को मिटाए जाने की आशंका है। इस हत्याकांड में एक और हैरान करने वाली बात यह है कि हत्यारोपियों को पुलिस रिमांड की जगह ज्यूडिशियल रिमांड पर भेजा गया है।

आक्रोशित लोगों ने फैक्ट्री में लगाई थी आग
अंकिता हत्याकांड से गुस्साए लोगों ने वनंतरा रिजॉर्ट के ठीक पीछे बनी स्वदेशी आर्गेनिक फैक्ट्री को आग लगा दी थी। जब तक दमकल वाहन घटनास्थल पर पहुंचा तब तक पूरी फैक्ट्री जल चुकी थी। गुस्साए लोग पुलिस फोर्स से भी उलझते रहे। तनाव के मद्देनजर रिजॉर्ट में पीएसी-पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है।  शनिवार सुबह फिर से पब्लिक रिजॉर्ट में एकत्र होने लगी।

चंद पुलिसकर्मियों से पब्लिक उलझ रही थी, इसी बीच रिजॉर्ट के ठीक पीछे बनी स्वदेशी आर्गेनिक प्लांट को आमजन ने आग के हवाले कर दिया। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। इधर, पुलिसकर्मियों को जब धुंआ उठने से आग लगने का पता चला तब वह दौड़कर मौके पर पहुंचे। एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार सिंह  ने बताया कि एहतियात के तौर पर हरिद्वार से भेजी गई पीएसी को तैनात कर दिया गया है।

गुस्साई भीड़ ने रिजॉर्ट के हर कमरे को तोड़ा
अंकिता हत्याकांड से गुस्साई भीड़ ने रिजॉर्ट का हर कमरा तहस-नहस किया है। वहीं, लोगों ने रिजॉर्ट को ढहाने की पौड़ी प्रशासन की कार्रवाई को महज दिखावा करार दिया। शुक्रवार को उग्र भीड़ ने रिजॉर्ट में तोड़फोड़ कर दी थी। लोगों ने रिजॉर्ट के हर कमरे में घुसकर गुस्सा उतारा था। हर एक चीज तहस-नहस कर दी थी। वहीं, रात में ही रिजॉर्ट को ध्वस्त करने जेसीबी पहुंच गई थी।

जेसीबी से रिजॉर्ट के अगले हिस्से की दीवार को सबसे पहले तोड़ा गया, उसके बाद उसका गेट ढहा दिया गया। फिर जेसीबी की मदद से भवन के अगले हिस्से की कुछ दीवारें तोड़ी गईं। इसके बाद भी लोगों ने कमरे में रखा फर्नीचर्स, टीवी से लेकर हर सामान में तोड़फोड़ करते हुए बाहर फेंक दिया। 

Related Articles

Back to top button