Ayodhya Ram Mandir : अमित शाह ने बड़ी घोषणा कर कहा ‘1 जनवरी 2024 तक बन जाएगा मंदिर’

Amit Shah On Ram Mandir: अयोध्या (Ayodhya) में चल रहे राम मंदिर के निर्माण कार्य के बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने बड़ा ऐलान कर दिया है।

Amit Shah said Ayodhya Ram Mandir | Tripura Election: उज्जवल प्रदेश, त्रिपुरा. केंद्रीय गृह मंत्री और बीजेपी नेता अमित शाह ने गुरुवार (5 जनवरी) को त्रिपुरा में ऐलान किया कि 1 जनवरी 2024 को अयोध्या में गगनचुंबी राम मंदिर तैयार हो जाएगा. अमित शाह इस समय चुनावी राज्य त्रिपुरा के दौरे पर हैं. वहां उन्होंने जन विश्वास यात्रा के तहत एक रैली में राम मंदिर निर्माण की तारीख का खुलासा किया. उन्होंने कहा कि अगले साल अयोध्या में राम मंदिर आपको तैयार मिलेगा.

इस दौरान अमित शाह ने कहा कि हमें पांच साल और दे दीजिए, हम त्रिपुरा को छोटे राज्यों में सबसे समृद्ध बनाएंगे. उन्होंने लोगों से धारा 370 का जिक्र छेड़ते हुए कहा कि कांग्रेस और कम्युनिस्ट 70 सालों से धारा 370 को गोद में बच्चे की तरह खिला रहे थे. उन्होंने कहा कि जब मैं इसके खिलाफ बिल लाया, तो पूरी मंडली कांव-कांव करने लगी. उन्होंने लोगों से ये भी पूछा कि कश्मीर हमारा है कि नहीं?

धारा 370 हटने पर खून की नदियां बहने की बात होती थी- अमित शाह

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि धारा 370 हटाने को लेकर कहा जाता था, खून की नदियां बहेंगी. उन्होंने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि राहुल बाबा, खून की नदियां दूर की बात है, मोदी सरकार में किसी की कंकड़ चलाने की हिम्मत नहीं हुई. उन्होंने पूर्व पीएम और कांग्रेस नेता मनमोहन सिंह का जिक्र करते हुए कहा कि पीएम मोदी बाबा मनमोहन सिंह नहीं हैं. पाकिस्तान ने उरी और पुलवामा में आतंकी घटनाओं को अंजाम दिया, तो भारत ने सर्जिकल स्ट्राइक की.

ये लोग पूछते थे, मंदिर कब बनेगा- अमित शाह

बीजेपी नेता ने कहा कि 2019 में राहुल गांधी पूछते थे कि मंदिर कब बनाओगे? मैं उन्हें बताना चाहता हूं, कान खोलकर सुन लें- 1 जनवरी 2024 को अयोध्या में गगनचुंबी राम मंदिर आपको तैयार मिलेगा. उन्होंने वहां मौजूद लोगों से कहा कि आप सब टिकट कराकर रख लें. उन्होंने पूर्ववर्ती वामपंथी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि कम्युनिस्टों ने पूरे त्रिपुरा को ड्रग्स और नशे का अड्डा बनाकर रखा था और बांग्लादेश से घुसपैठियों के लिए दरवाजे खोले थे. बीजेपी ने घुसपैठ और ड्रग्स को रोका. युवाओं को रोजगार की ओर ले जाने का काम किया.

त्रिपुरा में पिक्चर अभी बाकी है- केंद्रीय गृह मंत्री

अमित शाह ने कहा कि त्रिपुरा में जो कार्य हुए हैं, वो तो सिर्फ ट्रेलर हैं, पिक्चर आना अभी बाकी है. उन्होंने कहा कि हरा-भरा क्षेत्र पर्यटकों को देशभर से लाने की क्षमता रखता है, लेकिन पहले यहां आधारभूत संरचना नहीं थी. उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार ने विकास कर त्रिपुरा के पर्यटन को 11 गुना बढ़ाने की बात की है.

पीएम मोदी ने 5 अगस्त 2020 को रखी थी राम मंदिर की नींव

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 अगस्त 2020 को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की नींव रखी थी. उल्लेखनीय है कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण तेजी से चल रहा है और माना जा रहा है कि साल 2024 में जनवरी में मकर संक्राति के अवसर पर रामभक्तों के लिए राम मंदिर को खोल दिया जाएगा.

शाह ने कहा कि हमने कश्मीर से धारा 370 हटाने का काम किया है. कांग्रेस ने कहा कि खून की नदियां बहेंगी, लेकिन कश्मीर में शांति है. शाह ने कहा कि भाजपा ने पिछले 5 वर्षों में त्रिपुरा में जो विकास किया है, वह सिर्फ शुरुआत है – सिर्फ एक ट्रेलर, और ‘पिक्चर अभी बाकी है’ को न भूलें. मैं राज्य के लोगों को विश्वास दिलाता हूं, प्रधानमंत्री मोदीजी के नेतृत्व में त्रिपुरा जल्द ही भारत का सबसे समृद्ध राज्य बनेगा.

शाह ने सीपीआई पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी जी ने ‘चलो पलटाई’ मंत्र दिया, जिसके साथ त्रिपुरा के लोगों ने कम्युनिस्ट शासन को राज्य से बाहर कर दिया. कम्युनिस्टों ने पूरे त्रिपुरा को नशे का अड्डा बना दिया. बांग्लादेश से घुसपैठियों के लिए दरवाजा खोल दिया गया था. पहले इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं था, बीजेपी सरकार ने इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार कर त्रिपुरा में टूरिज्म को 5 साल में 11 गुना बढ़ा दिया है. उन्होंने कहा कि कम्युनिस्ट सरकार द्वारा बनाए गए हिंसा के माहौल को हमने खत्म कर दिया है. त्रिपुरा में कम्युनिस्ट शासन के दौरान जिस हिंसा और घुसपैठ का सामना करना पड़ा, वह भाजपा के सत्ता में आने के बाद से गायब हो गई है.

राहुल गांधी निकाल रहे भारत जोड़ो यात्रा

उधर, कांग्रेस नेता राहुल गांधी पूरे देश में भारत जोड़ो यात्रा निकाल रहे हैं. राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा इस वक्त उत्तर प्रदेश में है. भारत जोड़ो यात्रा उत्तर प्रदेश से हरियाणा में प्रवेश करते हुए पंजाब के रास्ते जम्मू-कश्मीर पहुंचेगी. काग्रेस की माने तो राहुल गांधी 30 जनवरी 2023 को श्रीनगर के लालचौक पर तिरंगा झंडा फहराएंगे. गौरतलब है कि राहुल गांधी ने 7 सितंबर 2022 को कन्याकुमारी से भारत जोड़ो यात्रा की शुरूआत की थी. केरल, तमिनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा से होते हुए यात्रा दिल्ली के बाद यूपी में चल रही है.

Show More

Related Articles

Back to top button
Join Our Whatsapp Group