महंगाई के खिलाफ कांग्रेस का प्रदर्शन, हिरासत में लिए गए नेता और कार्यकर्ता

चंडीगढ़
देश में बढ़ रही महंगाई और ज़रूरी चीज़ों पर जीएसटी लगाए जाने के खिलाफ हजारों कांग्रेसियों ने धरना प्रदर्शन किया। कांग्रेस भवन में प्रदर्शन करने के बाद कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ता राज्यपाल को ज्ञापन देने के लिए राजभवन की ओर मार्च निकालने की कोशिश की, लेकिन उन्हें पुलिस ने वाटर कैनन का इस्तेमाल करते हिरासत में लेकर राजभवन जाने से रोक दिया। इसी क्रम में पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने कहा कि, केंद्र में भाजपा नेतृत्व एनडीए सरकार आम लोगों के प्रति असंवेदनशील बन चुकी है। महंगाई ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है।
 
वड़िंग ने साधा केंद्र सरकार पर निशाना
राजा वड़िंग ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा संविधान के संघीय ढांचे पर प्रभाव डालते हुए लिए गए एकतरफा फैसला लिया गया है। पंजाब सहित देशभर में कमरतोड़ महंगाई का ज्ञापन में जिक्र किया गया है। दुर्भाग्यवश सरकार जिसके पास अर्थव्यवस्था की हर एक गतिविधि को सीधे और असीधे तौर पर नियंत्रित करने का पूर्ण अधिकार है। उसी सरकार ने बढ़ रही महंगाई को रोकने का कोई प्रयास नहीं किया। जरूरी वस्तुओं के रेट मध्यवर्ग के लोगों की पहुंच से बाहर हो चुके हैं, तो ऐसे में निम्न वर्ग की हालत तो और बुरी है। उन्होंने कहा कि आज अपने पूरे महीने की आय से एक सैलरी वाला व्यक्ति परिवार को खाना नहीं खिला पा रहा।
 
लगातार बढ़ रही है महंगाई- वड़िंग
पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि लगातार बढ़ रही और कमर तोड़ रही महंगाई काफी नहीं थी कि, इस असंवेदनशील भारत सरकार ने आम लोगों को बुरी तरह प्रभावित कर दिया है। कोरोना महामारी के प्रभाव को भूलते हुए, खाने वाली चीजों पर भी जीएसटी लगा दिया गया। यह हमारी पूरी जिंदगी पर टैक्स लगाने के समान है। खासतौर से पंजाब का जिक्र करते हुए कहा है कि इसका भौगोलिक आकार पहले से ही कई समस्याओं का कारण है। यह एक कृषि आधारित राज्य है और इसकी 70 प्रतिशत जनसंख्या खेती पर निर्भर करती है। खेती आधारित अर्थव्यवस्था होने के चलते पंजाब के लोगों की समस्या और गंभीर हो जाती हैं। वित्तीय बोझ के चलते ही किसान आए दिन आत्महत्या कर रहे हैं और बढ़ रही महंगाई का इसमें अहम रोल है।
 
हिरासत में लिए गए नेता और कार्यकर्ता
प्रदर्शन के दौरान नेता विपक्ष प्रताप सिंह बाजवा, प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष भारत भूषण आशू, सुखजिंदर सिंह रंधावा, ओम प्रकाश सोनी, विधायक सुखजिंदर सिंह सरकारिया, विधायक, तृप्त रजिन्दर सिंह बाजवा, विधायक, बरिंदर मीत सिंह पाहड़ा, विधायक, राणा गुरजीत सिंह, विधायक, परगट सिंह, विधायक सुखविंदर सिंह कोटली, विधायक डॉ राज कुमार चब्बेवाल, विधायक विक्रमजीत सिंह चौधरी, पवन आदिया, पूर्व विधायक कुशलदीप सिंह ढिल्लों, पूर्व विधायक संतोख सिंह भलीपुर, पूर्व विधायक तरसेम सिंह सियालके, कैप्टन संदीप संधू, बलकार सिंह संधू, मेयर, दीपइन्द्र सिंह ढिल्लों, मोहित मोहिंद्रा, विजय शर्मा टिंकू भी मौजूद रहे।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button