‘जॉब फॉर सेक्स’ मामले में 20 महिलाओं से मिला कनेक्शन, 2 अधिकारी निलंबित

निकोबार
 अंडमान निकोबार के हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट के मामले में कई सनसनीखेज खुलासे हो रहे हैं। अंडमान के पूर्व मुख्य सचिव जितेंद्र नारायण और लेबर कमिश्नर आरएस ऋषि के खिलाफ यौन उत्पीड़न के मामले में एसआईटी जांच कर रही है। दरअसल 21 साल की एक युवती ने इस मामले में गंभीर आरोप लगाए थे, तब इस हाई प्रोफाइल सेक्स रैकेट के मामले में खुलासा हुआ था। पुलिस की विशेष जांच टीम (एसआईटी) अब इसे ‘जॉब फॉर सेक्स’ का मामला मान रही है। फिलहाल अंडमान निकोबार प्रशासन ने दो अधिकारियों ने इस मामले में निलंबित कर दिया गया है।

कई सबूत को मिटाया गया

एसआईटी की जांच में खुलासा हुआ है कि इस मामले में अभी तक कई सबूतों को मिटा दिया गया है। साथ ही यह भी जानकारी मिली है कि बीते एक से दो साल की समय अवधि में 20 से अधिक महिलाओं को पोर्ट ब्लेयर स्थित पूर्व मुख्य सचिव जितेंद्र नारायण के घर लाया गया था। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इन सभी महिलाओं को यौन शोषण के बाद नौकरी दी गई है। इस मामले के खुलासे के बाद पूर्व मुख्य सचिव जितेंद्र नारायण 28 अक्टूबर को एसआईटी के सामने पेश हो सकते हैं।

Related Articles

Back to top button