नए साल में फिर से बढ़ेंगे कोरोना के मामले, बंद कर दिए जाएंगे सभी स्कूल, फिर से लगेगा लॉकडाउन!

भारत में कोरोना की स्थिति भले ही धीरे-धीरे सामान्य हो रही हो, लेकिन जहां से कोरोना की उत्पत्ति हुई, यानी चीन में अब भी कोरोना से राहत नहीं मिली है। चीन में एक बार फिर कोरोना के मामलों में तेजी आई है।

बीजिंग. भारत में कोरोना के हालत अब पहले से काफी बेहतर हैं। बीते कई महीनों से देश में कोरोना के मामलों में लगातार कमी देखी जा रही है। भारत में कोरोना की स्थिति भले ही धीरे-धीरे सामान्य हो रही हो, लेकिन जहां से कोरोना की उत्पत्ति हुई, यानी चीन में अब भी कोरोना से राहत नहीं मिली है। चीन में एक बार फिर कोरोना के मामलों में तेजी आई है।

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार चीन में एक बार फिर कोरोना का कहर कुछ इस तरह से बढ़ रहा है कि लोग खुद को बचाने के लिए घरों में कैद हो गए हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों का असर चीन में देखा जा सकता है। चीन की सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। चीन के कई शहर ऐसे हैं, जहां कोविड के केसों में बहुत ज्यादा बढ़ोतरी हो रही है।

मामला इस हद तक बिगड़ चूका है कि कई शहरों में अस्पतालों में एंटीजन टेस्ट किट की कमी आ गई है। इतना ही नहीं श्मशान घाटों पर लंबी कतारें लगी हुई हैं। बढ़ते मामलों को देखते हुए एक्सपर्ट कह रहे हैं कि चीन को तीन लहरों से अलर्ट रहना होगा, क्योंकि इस दौरान केस बढ़ सकते हैं।

जल्द आएगी कोरोना की तीसरी लहर

एक रिपोर्ट में ये दावा किया गया है की चीन के प्रमुख महामारी विशेषज्ञ वू ज़ुन्यो ने चेतावनी दी है कि चीन में कोरोना की तीन लहर (3rd Wave Of Corona) आएंगी। पहला मौका क्रिसमस, दूसरा अवसर न्यू ईयर और तीसरा मौका लूनर न्यू ईयर के बाद होगा, क्योंकि लोग इन मौकों पर अपने घरों की ओर लौटते हैं, ऐसे में लापरवाही बरतने पर खतरा कई गुना बढ़ सकता है। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि कोरोना की तीन लहरों में से पहली वेव इसी सर्दी में आएगी।

बंद कर दिए जाएंगे सभी स्कूल

मीडिया को जानकारी देते हुए चीन के अधिकारियों ने बताया कि सोमवार से अधिकांश स्कूलों को बंद कर दिया जाएगा। स्टूडेंट्स से कहा है कि वह घर से ही पढ़ाई करें। इसके अलावा हांग्जो में अधिकांश स्कूलों से कहा गया है कि शीतकालीन सेमेस्टर जल्दी खत्म करें।

Related Articles

Back to top button