कर्नाटक में 550 साल पुराने हेरिटेज मदरसे में घुसी भीड़, ताला तोड़ा, पूजा करने का भी आरोप

 बेंगलुरु
 
कर्नाटक पुलिस ने राज्य के बीदर जिले में दशहरा वाली रात 550 साल पुराने मदरसे में जबरन घुसने और तोड़फोड़ करने आरोप में नौ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। चार लोग गिरफ्तार हो चुके हैं, जबकि बाकी संदिग्धों की तलाश की जा रही है। उधर, एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कर्नाटक की भाजपा सरकार पर हमला बोला और कहा कि उनके राज में ऐतिहासिक मदरसे को अपवित्र करने की कोशिश की गई। बता दें कि महमूद गवां का मदरसा एक प्राचीन इस्लामी कॉलेज भी है और भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के अनुसार यह हेरिटेज में सूचीबद्ध है। एडिशनल एसपी महेश बीदर मेघनावर ने बताया कि सैयद मुभाशीर अली नाम के शख्स इस मामले में शिकायत दर्ज की है। एक स्थानीय समुदाय के नेता ने नाम न छापने की शर्त पर एचटी को बताया, “घटना रात करीब 2 बजे हुई। उन्होंने मदरसे का ताला तोड़ा, सिंदूर लगाया और कुछ जगह पूजा भी की गई।”

प्रदर्शन करते हुए पूजा भी की
शिकायत के अनुसार, दशहरा वाली रात तकरीबन 2 बजे भीड़ मदरसे के बाहर जमा हो गए। यह 550 साल पुराना एएसआई हेरिटेज मदरसा है। भीड़ में मौजूद लोगों ने पहले ताला तोड़ा फिर अंदर सिंदूर बिखेरा। इसके बाद पूजा भी की गई। इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है। जिसमें दिख रहा है कि मदरसे की सीढ़ियों पर खड़े होकर कुछ लोग प्रदर्शन के दौरान "जय श्री राम" और "हिंदू धर्म जय" के नारे लगा रहे हैं। हालांकि पूजा और नारेबाजी को लेकर लाइव हिन्दुस्तान वीडियो की प्रामाणिकता की पुष्टि नहीं करता है।

संदिग्धों की तलाश जारी
पुलिस अधिकारी के अनुसार, मामले में अब तक चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है और अन्य संदिग्धों की तलाश की जा रही है। अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर बताया, “प्रबंधन की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया गया है। हमारे पास उपलब्ध सूचना के आधार पर हमने नौ लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। अगर हमें और जानकारी मिलती है तो हम और संदिग्धों को गिरफ्तार करेंगे।”

ओवैसी बोले- मदरसे को अपवित्र करने की कोशिश
उधर, ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने एक ट्वीट में कहा, "राज्य की भाजपा सरकार "मुसलमानों को नीचा दिखाने" के लिए ऐसी घटनाओं को बढ़ावा दे रही है। “ऐतिहासिक महमूद गवां मस्जिद में उग्रवादियों ने गेट का ताला तोड़ा और अपवित्र करने का प्रयास किया। @bidar_police (बीदर पुलिस) @BSBommai (कर्नाटक सीएम बसवराज बोम्मई) आप ऐसा कैसे होने दे सकते हैं? बीजेपी केवल मुसलमानों को नीचा दिखाने के लिए इस तरह की गतिविधि को बढ़ावा दे रही है।”

 

Show More

Related Articles

Back to top button
Join Our Whatsapp Group