मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी ने उमर अब्दुल्ला से पूछताछ की

नई दिल्ली
 जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah) से गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने पूछताछ की है। ईडी ने यह पूछताछ जम्मू-कश्मीर बैंक मनी लॉन्ड्रिंग मामले में की है। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने पहले जम्मू-कश्मीर बैंक के पूर्व अध्यक्ष मुश्ताक अहमद शेख और अन्य पर ऋण और निवेश की मंजूरी में कथित अनियमितताओं के लिए मामला दर्ज किया था।

ईडी ने सीबीआई की प्राथमिकी का संज्ञान लेते हुए धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) की जांच शुरू कर दी है। सीबीआई ने 2021 में जम्मू-कश्मीर बैंक के तत्कालीन प्रबंधन के खिलाफ 2010 में मुंबई के बांद्रा कुर्ला में मेसर्स आकृति गोल्ड बिल्डर्स से एक संपत्ति खरीदने के लिए मामला दर्ज किया था। आरोप है कि संपत्ति खरीदने में "निविदा प्रक्रिया की घोर अवहेलना" की गई। सुनियोजित साजिश के तहत इसे 180 करोड़ रुपए की अत्यधिक दर पर खरीदा गया।

केंद्र पर लगाया एजेंसियों के दुरुपयोग का आरोप
अब्दुल्ला की पार्टी जम्मू कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस (JKNC) ने केंद्र पर राजनीतिक उद्देश्यों के लिए केंद्रीय एजेंसियों का उपयोग करने का आरोप लगाया है। पार्टी ने ट्विटर पर कहा कि हमें इसमें कोई संदेह नहीं है कि इस मछली पकड़ने के अभियान से भाजपा को कोई ठोस परिणाम नहीं मिलेगा और जब भी आवश्यकता होगी लोग नेशनल कॉन्फ्रेंस को जोरदार समर्थन देंगे। पार्टी की ओर से ट्वीट किया गया कि ईडी ने जेकेएनसी के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला को आज इस आधार पर पेश होने के लिए दिल्ली बुलाया कि जांच के सिलसिले में उनकी उपस्थिति जरूरी है। भले ही यह अभ्यास राजनीतिक प्रकृति का है, वह सहयोग करेंगे। क्योंकि उनकी ओर से कोई गलत काम नहीं किया गया है।

Related Articles

Back to top button