कार में बैठे सभी लोगों को सीट बेल्ट पहनने की जरूरत, नितिन गडकरी ने सुनाया दिलचस्प किस्सा

नई दिल्ली
मशहूर उद्योगपति साइरस मिस्त्री की सड़क हादसे में मौत के बाद सेफ्टी फीचर्स पर सवाल खड़े हो रहे हैं। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी से देश में होने वाले सड़क हादसों को लेकर सवाल पूछा गया। गडकरी ने कहा कि देश के लोगों को सड़क सुरक्षा में सुधार के लिए मानसिकता बदलने की जरूरत है।

गडकरी ने इस दौरान चार मुख्यमंत्रियों के साथ कार में सफर का किस्सा भी सुनाया। गडकरी ने बताया कि कैसे सीट बेल्ट ना लगाने पर उन्होंने कार ड्राइवर को डांट लगाई थी। गडकरी कहते हैं, 'आम लोगों को तो भूल जाओ। मैं एक बार चार मुख्यमंत्रियों के साथ उनकी कार से जा रहा था… नाम मत पूछिये। मैं फ्रंट सीट पर बैठा था, मैंने देखा कि सीट बेल्ट की जगह पर क्लिप लगी थी, जिससे सीट बेल्ट ना लगाने पर भी अलार्म की आवाज ना आए। मैंने ड्राइवर को डांटा और सुनिश्चित किया कि कार चलने से पहले सीट बेल्ट लगा लूं।' गडकरी ने बताया कि मैंने इस तरह के क्लिप के निर्माण और बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है।

'पीछे बैठने वालों को भी सीट बेल्ट लगाने की जरूरत'
केंद्रीय मंत्री ने आगे कहा, 'पीछे वाली सीट पर बैठे लोगों को लगता है कि उन्हें सीट बेल्ट लगाने की जरूरत नहीं है। ये समस्या है। मैं किसी हादसे पर टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं, लेकिन आगे और पीछे की सीट पर बैठने वाले सभी लोगों को सीट बेल्ट पहनने की जरूरत है।'

बता दें कि गडकरी आईएए के ग्लोबल समिट- Nations As Brands कार्यक्रम में बोल रहे थे। गडकरी ने कहा कि सरकार सभी कारों में 6 एयरबैग्स अनिवार्य करने पर भी विचार कर रही है। गडकरी ने कहा, 'जब देश से गाड़ी एक्सपोर्ट की जाती है तो उसमें 6 एयरबैग्स होते हैं। तो फिर भारतीय कारों में चार एयरबैग ही क्यों होते हैं। क्या भारतीयों की जान की कीमत नहीं है? जब बड़ी संख्या में एयर बैग का निर्माण होगा तो इसकी कीमत घटकर 900 रुपये रह जाएगी।'

Related Articles

Back to top button